थोक महंगाई दर में आई गिरावट, जानिये कौन से सेगमेंट में कितना हुआ बदलाव

नई दिल्‍ली. थोक महंगाई दर (Wholesale Price Index – WPI) में दिसंबर 2021 में मामूली गिरावट आई है. दिसंबर महीने के लिए होलसेल प्राइस इंडेक्स 13.56 फीसदी रहा है. यह नवंबर महीने के 14.23 फीसदी था. मतलब इस बार .67 प्‍वाइंट कम है. वहीं दिसंबर 2020 में थोक महंगाई दर महज 1.95 फीसदी रही थी. दिसंबर थोक महंगाई दर में कमी का मुख्‍य कारण होलसेल फ्यूल और पावर इन्‍फ्लेशन में कमी आना रहा. नंवबर में यह जहां 39.81 फीसदी थी जो दिसंबर में गिरकर 32.30 फीसदी रह गई.

दिसंबर में मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स सेगमेंट में महंगाई दर 10.62 फीसदी रही, जबकि नवंबर में यह 11.92 फीसदी रही थी. फल एवं सब्‍जी सेगमेंट में महंगाई दर 31.56 फीसदी रही, जबकि नवंबर में यह महंगाई 3.91 फीसदी रही थी. अंडा, मीट, फिश सेगमेंट में महंगाई दर 6.68 फीसदी रही, जबकि नवंबर में यह महंगाई 9.66 फीसदी रही थी.

ये भी पढ़ें : Cryptocurrency prices today : METAF में 3000 प्रतिशत का उछाल, डोज़कॉइन ऊपर, बिटकॉइन और इथेरियम लाल

खुदरा महंगाई दर बढ़ी

राष्ट्रीय सांख्यकी कार्यालय (एनएसओ) ने तीन दिन पहले बताया था कि दिसंबर 2021 में खुदरा महंगाई दर में बढ़ोतरी हुई है. देश में खाद्य वस्तुओं के दाम बढ़ने से खुदरा महंगाई दर दिसंबर के महीने में पांच महीने के उच्चतम स्तर 5.59 फीसदी पर पहुंच गई. पिछले महीने अर्थात नवम्बर में यह 4.91 फीसदी थी. इसके अलावा, भारत के कारखानों के उत्पादन में भी 1.4 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है.

उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) आधारित खुदरा मुद्रास्फीति नवंबर, 2021 में 4.91 प्रतिशत और दिसंबर, 2020 में 4.59 प्रतिशत थी. राष्ट्रीय सांख्यकी कार्यालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर में खाद्य मुद्रास्फीति बढ़कर 4.05 प्रतिशत हो गई, जो इससे पिछले महीने 1.87 प्रतिशत थी.

ये भी पढ़ें : गांरटी से मिलेगा लोन, लेकिन अप्‍लाई करने से पहले करने होंगे ये छोटे काम

क्‍या है थोक मूल्‍य सूचकांक?

थोक मूल्य सूचकांक थोक (Wholesale Price Index) बाजार में सामान की औसत कीमतों में हुए बदलाव को मापता है. थोक बाजार का मतलब है, बड़ी मात्रा में सामान की खरीदारी, जो कारोबारी, खुदरा व्यापारी या कंपनियां करती हैं. इस सूचकांक का मकसद बाजार में उत्पादों की गतिशीलता पर नजर रखना है, ताकि मांग और आपूर्ति की स्थिति का पता चल सके. साथ ही, इससे निर्माण इंडस्ट्री और उत्पादन से जुड़ी स्थितियां भी मालूम चलती हैं.

Tags: Inflation, Wholesale Price Index

Related posts:

National Conference: Cm Jairam Said - Natural Farming Will Start In Himachal's Agriculture, Horticul...
Challenge For Opposition To Penetrate Saffron Stronghold: Many Big Works Like Fertilizer Factory, Ku...
Winter Food Items Bajre ki roti Green Vegetables Jaggery almond Honey neer
Shivraj In Shirdi: Visited Saibaba Temple On The First Day Of The Year, A Message Issued On The New ...
Delhi: Prisoner Swallows Mobile Phone In Tihar Jail Removed Through Endoscopy - बचने के लिए उठाया कद...
Jacqueline Fernandez today again questioned by Enforcement Directorate in case of money laundering o...
Fir On Former Mayor Jaggi And Then Eo In Fraud - हिमाचल प्रदेश : धोखाधड़ी में पूर्व मेयर जग्गी और तत...
Delhi: Encounter Between Police And Miscreants In Dwarka, Two Miscreants Got Shot In The Leg - दिल्ल...
Terrorists Shot A Person In Idgah Area Of Srinagar, Security Forces Reached The Spot - जम्मू-कश्मीर:...
Kashi Vishwanath Corridor Inauguration Pm Modi Will Welcomed With Special Angavastra Prepared By Mum...
Jharkhand government will credit amount for books in accounts of 3 lac students bramk
Online Vs Offline Education Why interest of children towards education & books dying nodakm
Preparations are in full swing in Rajasthan hotel for Vicky-Katrina wedding | राजस्थान के होटल में त...
10 thousand active patients in Noida most positive in the UP state corona update nodssp
How to make hair long guava leaves are very beneficial for hair health pra
Israel's Mossad Recruited 10 Iran Scientists To Destroy Iran's Nuclear Plant  - इस्राइल का सीक्रेट ऑ...

Leave a Comment