Bjp in crisis on nainital seat ahead of assembly elections will party push sarita arya

नैनीताल. ‘पार्टी को अपने मूल कार्यकर्ताओं को ही तवज्जो देनी चाहिए, वरना हतो​त्साहित महसूस करने वाले कार्यकर्ताओं के भीतर रोष पैदा हो सकता है.’ उत्तराखंड चुनाव से पहले हुए घटनाक्रम के बाद नैनीताल में भाजपा के कार्यकर्ताओं की भावनाएं कुछ इस तरह उजागर हो रही हैं. इस सीट से संजीव आर्य विधायक रहे, लेकिन कुछ समय पहले उन्होंने अपने पिता यशपाल आर्य के साथ कांग्रेस का दामन थाम लिया. स्थिति यह है कि भाजपा के नेता इस बार चुनाव में टिकट मिलने की आस में थे, तभी कांग्रेस की महिला मोर्चे की प्रमुख ​सरिता आर्य ने भाजपा में एंट्री ले ली. अब भाजपा के भीतर टिकट को लेकर घमासान मचा हुआ है.

कांग्रेस से टिकट के दो दावेदारों का पिछले कुछ ही दिनों के भीतर बीजेपी में शामिल हो जाना नैनीताल सीट पर समीकरण उलझाने वाला घटनाक्रम दिख रहा है. भाजपा छोड़कर गए संजीव आर्य के लिए कांग्रेस से टिकट का रास्ता ज़रूर साफ़ है, लेकिन बीजेपी में आए नेताओं के कारण संगठन में बेचैनी बढ़ गई है. टिकट के दावेदार प्रकाश आर्य से लेकर दिनेश आर्य व मोहनपाल कशमकश में हैं, तो कांग्रेस से आई सरिता आर्य अपना दावा मजबूत बता रही हैं. वहीं, भाजपा के भीतर चल रही इस रस्साकशी पर कांग्रेस चुटकी ले रही है.

‘दलबदलुओं से परहेज़ करे पार्टी, वरना…’
दरअसल सरिता आर्य ने बीजेपी टिकट की शर्त पर जॉइन की. उनके इस तरह बीजेपी में आते ही कार्यकर्ताओं में रोष पैदा हो गया. नैनीताल सीट से भाजपा के टिकट के दावेदार प्रकाश आर्य समेत कार्यकर्ताओं का कहना है कि पार्टी को उन्हीं कार्यकर्ताओं को बढ़ावा देना चाहिए जो लंबे समय से निष्ठा के साथ पार्टी के लिए काम कर रहे हैं. उनका कहना है कि संजीव आर्य के रूप में दलबदलुओं से भाजपा झटका खा चुकी है, अब सचेत होना चाहिए.’

एक तरफ भाजपा के कार्यकर्ता ये आरोप लगा रहे हैं कि पिछले पांच सालों में संजीव आर्य का उत्पीड़न उन्होंने सहा, वहीं सरिता आर्य इस खलबली को स्वाभाविक कह रही हैं. उनका कहना है कि टिकट पर दावा करने का हक सभी का है. इसे पार्टी के भीतर विरोध नहीं समझना चाहिए. एक बार जब टिकट का ऐलान हो जाएगा, सभी कार्यकर्ता पार्टी को जिताने के लिए एकजुट ही होंगे. बहरहाल, फिलहाल नज़र बीजेपी के प्रत्याशियों की पहली लिस्ट पर है, जिसका ऐलान आज या कल हो सकता है.

आपके शहर से (नैनीताल)

उत्तराखंड


  • Uttarakhand Politics: नैनीताल में BJP संकट में, कांग्रेस से आईं सरिता आर्य को टिकट देना कितना बड़ा जोखिम?

    Uttarakhand Politics: नैनीताल में BJP संकट में, कांग्रेस से आईं सरिता आर्य को टिकट देना कितना बड़ा जोखिम?


  • नैनीताल में बाढ़ जैसे न हो जाए हालात, झील से जल निकासी के लिए बनेगा तीसरा गेट

    नैनीताल में बाढ़ जैसे न हो जाए हालात, झील से जल निकासी के लिए बनेगा तीसरा गेट


  • नैनीताल के इस इलाके में है एक खूबसूरत झरना, पर्यटकों की नजरों से भी है दूर!

    नैनीताल के इस इलाके में है एक खूबसूरत झरना, पर्यटकों की नजरों से भी है दूर!


  • नैनीताल: नैनी झील के अस्तित्व पर मंडरा रहा खतरा, जानिए इसकी वजह

    नैनीताल: नैनी झील के अस्तित्व पर मंडरा रहा खतरा, जानिए इसकी वजह


  • नैनीताल: पहाड़ों में पाई जाती है एपिस सेरेना इंडिका मधुमक्खी, जानिए इसके शहद की खासियत

    नैनीताल: पहाड़ों में पाई जाती है एपिस सेरेना इंडिका मधुमक्खी, जानिए इसके शहद की खासियत


  • नैनीताल: घुघुतिया त्यार पर कौवों को बुलाकर खिलाए जाते हैं घुघूते, रोचक है इसकी कहानी

    नैनीताल: घुघुतिया त्यार पर कौवों को बुलाकर खिलाए जाते हैं घुघूते, रोचक है इसकी कहानी


  • नैनीताल के चिड़ियाघर में दुनिया का सबसे प्यारा जानवर, रेड पांडा के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगे आप

    नैनीताल के चिड़ियाघर में दुनिया का सबसे प्यारा जानवर, रेड पांडा के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगे आप


  • Nainital Snowfall: नैनीताल में बर्फबारी से बढ़ी ठंड, पर्यटकों के खिले चेहरे

    Nainital Snowfall: नैनीताल में बर्फबारी से बढ़ी ठंड, पर्यटकों के खिले चेहरे


  • Uttarakhand Elections 2022: पलायन ने छीनी खुशियां, नैनीताल के 19 गांवों में एक भी मतदाता नहीं!

    Uttarakhand Elections 2022: पलायन ने छीनी खुशियां, नैनीताल के 19 गांवों में एक भी मतदाता नहीं!


  • उत्तराखंड चुनाव: गरीबों को ढाई लाख की मदद, किसानों के कर्ज माफ- BJP नेता का घोषणापत्र वायरल

    उत्तराखंड चुनाव: गरीबों को ढाई लाख की मदद, किसानों के कर्ज माफ- BJP नेता का घोषणापत्र वायरल


  • Uttarakhand Election: खामोश दलबदल जारी है..! रात में BJP नेताओं से मिलीं सरिता आर्य क्या छोड़ेंगी कांग्रेस?

    Uttarakhand Election: खामोश दलबदल जारी है..! रात में BJP नेताओं से मिलीं सरिता आर्य क्या छोड़ेंगी कांग्रेस?

उत्तराखंड

Tags: Nainital Assembly seat election, Uttarakhand Assembly Election, Uttarakhand BJP

Related posts:

Over 202 million spam calls were made in India between January and October: Report | भारत में जनवरी ...
New Year Celebrations in Shimla police offers special treatment for corona and miscreants on new yea...
Earthquake Today In Kashmir Noida And Other Areas After 6.2 Magnitude Strikes In Afghanistan - Earth...
Rahul Roy Birthday Special: आशिकी के हिट होते ही राहुल रॉय ने साइन की थीं 60 फिल्में, फिर क्यों बना ...
Corona In Delhi Increases Continuously 5481 New Cases Were Reported In Last 24 Hours Three Patient D...
Pujari raped lady professor for 3 months on pretext of worship accused arrested from ujjain cgnt
Champat Rai Said - Government Should Remove The Converted Tribes From The List Of Scheduled Tribes -...
Cryptocurrency Made Burger Flipper To Billionaires Binance Ceo Zhao Beats Mukesh Ambani - कमाल: क्रि...
Weather Update Yellow alert in North India including Delhi cold winds will increase winter will snow...
Akhilesh Yadav Said Bjp Agriculture Law Was A Wrong Decision And Samajwadi Party Will Win 400 Assemb...
Omicron Variant Broke Records In Britain, Coronavirus Cases Doubled In America, Then There Is A Poss...
Sarkari Naukri 2021 government jobs invited application many posts including Laboratory Assistant on...
Bihar panchayat election 62 per cent voting recorded in eight phase nodmk8
Bihar Teacher Job sawa lakh teachers will be appointed simultaneously on big salary sanskrit urdu pr...
England man unable to close eyes for past 3 years use tape on eyelids to sleep ashas
Amazon Fined 1-28 billion dollars Italian Antitrust Case

Leave a Comment