Cait requests all india traders for online registration on udyam portal here is the process of enrollment dlpg

नई दिल्‍ली. देश में सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम के क्षेत्र में अब डिजिटलीकरण के तहत कारोबारियों को प्रेरित किया जा रहा है. व्‍यापारियों के सबसे बड़े संगठन कन्‍फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने सभी व्‍यापारियों से केंद्र सरकार के उद्यम पोर्टल पर पंजीकरण करने की मांग की है. इसके साथ ही केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने भी आज देश के व्यापारिक समुदाय से एमएसएमई मंत्रालय के उद्यम पोर्टल पर अपनार रजिस्‍ट्रेशन करने के लिए कहा है. ताकि व्यापारियों के पंजीकरण से उनको बैंकों और वित्तीय संस्थानों से प्रायोरिटी सेक्टर लेंडिंग के अंतर्गत आसानी से ऋण मिल सके जो उनकी व्यावसायिक गतिविधियों को मजबूत करे. कैट की ओर से कहा गया कि यह लोन कारोबारियों को घरेलू या वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए अनुकूल बनाएगा.

बता दें कि उद्यम पंजीकरण भारत में एमएसएमई व्यवसाय को ऑनलाइन पंजीकृत करने की प्रक्रिया है. इसके माध्‍यम से उद्योगों को केंद्र सरकार और बैंकिंग क्षेत्र से MSMED अधिनियम के लाभों का फायदा मिल जाता है. MSMED अधिनियम के तहत किसी भी एमएसएमई को पंजीकृत होना जरूरी है फिर चाहे वह कंपनी सेवा से संबंधित हो या विनिर्माण से हो. कैट के राष्‍ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल का कहना है कि एक बार जब देश भर के व्यापारी उद्यम पंजीकरण प्राप्त कर लेंगे, तो इसे देश में व्यापारिक गतिविधियों के संचालन के लिए विभिन्न लाइसेंस प्राप्त करने के लिए उद्यम नम्बर को एकल बिंदु के रूप में विकसित किया जा सकता है. इससे व्यापारियों को व्यापार करने में आसानी होगी.

इस पोर्टल पर ऐसे करें आवेदन
. सबसे पहले केंद्र सरकार के एमएसएमई मंत्रालय के अधीन आने वाले उद्योग पंजीकरण पोर्टल पर जाएं.
. इसके बाद उद्योग पंजीकरण फार्म प्राप्‍त करने के लिए उद्योग पंजीकरण पर क्लिक करें.
. फॉर्म में पूछा गया पूरा विवरण दर्ज करें.
. इसके बाद ओटीपी प्राप्त करने के लिए पंजीकृत फोन नंबर या ई-मेल आईडी को दर्ज करें.
. अंत में आपको Validate & Generate OTP बटन पर क्लिक करके otp verify करना होगा. इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है. फार्म सबमिट होते ही आपका सर्टिफिकेट आपके सामने आ जाएगा, जिसका प्रिंट भी निकाला जा सकेगा.

ये हैं खास बातें
MSME पंजीकरण प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन, पेपरलेस और स्व-घोषणा पर आधारित है. इसको पंजीकृत करने के लिए कोई दस्तावेज़ या प्रमाण अपलोड करने की जरूरत नहीं है. पंजीकरण के लिए केवल आधार संख्या ही पर्याप्त होगी. उद्यमों के निवेश और टर्नओवर पर पैन और जीएसटी से जुड़े विवरण सरकारी डेटा बेस से स्वचालित रूप से लिए जाएंगे. यह ऑनलाइन प्रणाली पूरी तरह से आयकर और जीएसटीआईएन सिस्टम के साथ एकीकृत होगी. रजिस्‍ट्रेशन में पैन और जीएसटी नंबर अनिवार्य हैं. जिन लोगों के पास ईएम-द्वितीय या यूएएम पंजीकरण या एमएसएमई मंत्रालय के तहत किसी भी प्राधिकरण द्वारा जारी किया गया कोई अन्य पंजीकरण है, उन्हें खुद को फिर से पंजीकृत करना होगा. कोई भी उद्योग एक से ज्‍यादा उद्योग पंजीकरण नहीं करेगा.

Tags: Business, Gst, MSME Sector, Online business

Related posts:

The Duty Of Policemen In Delhi Will Now Be Marked By Computer - दिल्ली में ई चिट्ठा मुंशी प्रोजेक्ट ...
Weather Updates Cold Day conditions over Northwest and Central India very likely to abate
UP Lekhpal Bharti 2021 upsssc release lekhpal recruitment exam syllabus and paper pattern
Sunny leone trolles for her daughter now husband daniel weber come forward and replied pr
misdoing with 17 year old minor boy in Shimla nodbk
Corona warrior story Despite spoiled lungs Premchand of Bundi kept beating death on ventilator from ...
National anthem controversy AIMIM MLA Akhtarul Imam raised objection BJP says go to Pakistan jhnj - ...
Road accident speeding scorpio crushed 4 person standing road side 1 man died in the accident nodmk8
Four And A Half Kilometer Long Tunnel To Be Built For Jammu And Kashmir Doda-chamba Road - जम्मू-कश्...
Odisha: 424 New Cases Of Corona Were Reported, Jagannath Temple Reopens For Devotees After Three Day...
Actress Amrapali Dubey Bhojpuri Film Love Vivah dotcom first look Raya
Viral video of young man burning the car parked in the street in panipat hrrm
Know Some Important Things Related To This Important Government Job-safalta - Upsssc Pet Lekhpal 202...
Electric vehicle special mobility zone to be set up in the country delsp
Up Assembly Election 2022: Ed Eyeing The Election Of Mafia Atiq Ahmed, Mukhtar Ansari And Vijay Mish...
Jharkhand government will run coaching for SC-ST students in 24 districts for competitive examinatio...

Leave a Comment