Corona Cases Spreading In Jaipur Schools, 11 Students Got Covid-19 Infected In One School, Strictness Started – कोरोना का कहर : जयपुर के स्कूलों में पांव पसार रहा कोरोना, एक स्कूल में 11 छात्र संक्रमित हुए, सख्ती शुरू

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला
Published by: देवेश शर्मा
Updated Tue, 23 Nov 2021 02:51 PM IST

सार

एक ओर जहां देश भर में कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण बंद हुए स्कूलों को पुन: खोला जा रहा है, वहीं दूसरी जहां स्कूल खुल चुके हैं, वहां कोरोना संक्रमण के मामले फिर से पांव पसारते दिख रहे हैं।  

स्कूल में विद्यार्थियों की जांच। सांकेतिक चित्र
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

एक ओर जहां देश भर में कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण बंद हुए स्कूलों को पुन: खोला जा रहा है, वहीं दूसरी जहां स्कूल खुल चुके हैं, वहां कोरोना संक्रमण के मामले फिर से पांव पसारते दिख रहे हैं। ऐसा ही चेतावनी भरा मामला सामने आया है राजस्थान की राजधानी जयपुर से, जहां तीन स्कूलों में कोरोना संक्रमण फैलने की बात सामने आ रही है। इनमें से एक स्कूल में तो 11 बच्चे संक्रमित पाए गए हैं। इससे पहले पिछले सप्ताह में भी जयपुर शहर के दो नामचीन स्कूलों में पढ़ रहे छात्र कोराेना संक्रमित पाए गए थे। 

राजस्थान में 15 नवंबर से ही खुल 100 फीसदी क्षमता के साथ खोले गए थे। इसके अगले ही दिन 16 नवम्बर को जांच के दौरान जयपुर के एसएमएस यानी सवाई मानसिंह स्कूल के दो बच्चे एक साथ कोरोना संक्रमित पाए गए। फिर मानसरोवर स्थित नीरजा मोदी स्कूल और जयश्री पेड़िवाल स्कूल में भी दो बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए थे। जिसके बाद जब जयश्री पेड़िवाल स्कूल के 12 और बच्चों के सैंपल लिए गए तो इनमें 11 बच्चे कोरोना संक्रमित मिले हैं।

कक्षाओं को एक सप्ताह तक बंद करने का फैसला
इससे जयश्री पेड़िवाल स्कूल प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग समेत शहर के आला अधिकारी सकते में हैं। वहीं, अभिभावकों (Parents) की चिंता बढ़ने लगी, और हाल ही में एक ढाई साल के बच्चे की कोरोना से मौत ने अभिभावकों को हिलाकर रख दिया है। इसके बाद जयश्री पेड़ीवाल इंटरनेशनल स्कूल प्रबंधन ने आनन-फानन में कक्षा 6 से 8वीं तक की कक्षाओं को एक सप्ताह तक बंद करने का फैसला किया। सूत्रों को कहना है कि स्कूल में कुछ और छात्र पॉजिटिव पाए गए हैं, लेकिन प्रबंधन ने अभी उनके मामलों की पुष्टि नहीं की है। 

पिछले दिनों ढाई साल के बच्चे की कोरोना से मौत हुई
सावधानी बरतते हुए स्कूल प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन कक्षाएं शुरू कर दी हैं। गौरतलब है कि जयपुर शहर में 15 नवंबर के बाद से अब तक 20 वर्ष कम उम्र के करीब एक दर्जन से अधिक छात्र संक्रमित  मिले हैं, तो वहीं पिछले दिनों एक ढाई साल के बच्चे की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। ऐसे में बच्चों को स्कूल भेजना अभिभावकों के लिए चिंता का विषय बन गया है। 

विस्तार

एक ओर जहां देश भर में कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण बंद हुए स्कूलों को पुन: खोला जा रहा है, वहीं दूसरी जहां स्कूल खुल चुके हैं, वहां कोरोना संक्रमण के मामले फिर से पांव पसारते दिख रहे हैं। ऐसा ही चेतावनी भरा मामला सामने आया है राजस्थान की राजधानी जयपुर से, जहां तीन स्कूलों में कोरोना संक्रमण फैलने की बात सामने आ रही है। इनमें से एक स्कूल में तो 11 बच्चे संक्रमित पाए गए हैं। इससे पहले पिछले सप्ताह में भी जयपुर शहर के दो नामचीन स्कूलों में पढ़ रहे छात्र कोराेना संक्रमित पाए गए थे। 

राजस्थान में 15 नवंबर से ही खुल 100 फीसदी क्षमता के साथ खोले गए थे। इसके अगले ही दिन 16 नवम्बर को जांच के दौरान जयपुर के एसएमएस यानी सवाई मानसिंह स्कूल के दो बच्चे एक साथ कोरोना संक्रमित पाए गए। फिर मानसरोवर स्थित नीरजा मोदी स्कूल और जयश्री पेड़िवाल स्कूल में भी दो बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए थे। जिसके बाद जब जयश्री पेड़िवाल स्कूल के 12 और बच्चों के सैंपल लिए गए तो इनमें 11 बच्चे कोरोना संक्रमित मिले हैं।

कक्षाओं को एक सप्ताह तक बंद करने का फैसला

इससे जयश्री पेड़िवाल स्कूल प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग समेत शहर के आला अधिकारी सकते में हैं। वहीं, अभिभावकों (Parents) की चिंता बढ़ने लगी, और हाल ही में एक ढाई साल के बच्चे की कोरोना से मौत ने अभिभावकों को हिलाकर रख दिया है। इसके बाद जयश्री पेड़ीवाल इंटरनेशनल स्कूल प्रबंधन ने आनन-फानन में कक्षा 6 से 8वीं तक की कक्षाओं को एक सप्ताह तक बंद करने का फैसला किया। सूत्रों को कहना है कि स्कूल में कुछ और छात्र पॉजिटिव पाए गए हैं, लेकिन प्रबंधन ने अभी उनके मामलों की पुष्टि नहीं की है। 

पिछले दिनों ढाई साल के बच्चे की कोरोना से मौत हुई

सावधानी बरतते हुए स्कूल प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन कक्षाएं शुरू कर दी हैं। गौरतलब है कि जयपुर शहर में 15 नवंबर के बाद से अब तक 20 वर्ष कम उम्र के करीब एक दर्जन से अधिक छात्र संक्रमित  मिले हैं, तो वहीं पिछले दिनों एक ढाई साल के बच्चे की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। ऐसे में बच्चों को स्कूल भेजना अभिभावकों के लिए चिंता का विषय बन गया है। 

Related posts:

West Bengal Corona Cases Today Latest News Update In Hindi Maharashtra : More Than 51 Thousand Activ...
BRIGADIER Lakhbinder Singh Lidder cds bipin rawat helicopter crash indian airforce
Mumbai Police Cyber Cell Detained Main Accused Woman From Uttarakhand In Bulli Bai App Case And Arre...
Elephants hugs caretaker meeting after 14 months viral video ashas
Why the risk of brain tumor is reduced in asthma patients US scientists explained the reason in the ...
Pakistan Cricket Board Asked Pakistan Players in BBL to Return Home for PSL 7
Harbhajan Singh Navjot Singh Sidhu Punjab Politics Congress
Pm Narendra Modi Visit In Dehradun: Congress And Bjp Workers Fight During Pm Modi Rally Photos - देह...
Rjd leader arrange dance program of bar girls on the occasion of republic day bramk
Five Big News: One More Soldier Martyred In Terrorist Attack In Srinagar's Jevan, Encounter Started ...
Tip Tip Barsa Pani katrina kaif hindi Song Bhojpuri Actress Shweta Mahara dance goes viral Raya
Former Minister Kusum Mahdele Says She Was Removed From State Executive Body For Raising Voice Again...
13049 New Covid Cases Found In Rajasthan And 21 Deaths - कोरोना का प्रकोप: राजस्थान में निकले 13049 ...
Up Elections: Bjp Core Committee Seals Around 150 Seats, Including The Names Of 113 Seats In The Fir...
Punjab election How much chances of Arvind Kejriwal AAP in State election know the facts
Grand Finale Of 'vande Bharatam-nritya Utsav' Today - ‘वंदे भारतम-नृत्य उत्सव’ का ग्रैंड फिनाले आज

Leave a Comment