Cyber Dost Alert Online Fraud Internet Crime unknown call SSND

Cyber Dost Alert: डिजिटल होती दुनिया में धोखेबाजी और ठगी के भी नए-नए तरीके अजमाए जा रहे हैं. एक फोन कॉल या मैसेज से ही घर बैठे-बैठे हैकर्स बैंक अकाउंट खाली कर देते हैं. साइबर क्रिमिनल नए-नए तरीकों से लोगों को चूना लगा रहे हैं. कोरोना काल में जिस गति से ऑनलाइन ट्रांजैक्शन और डिजिटल पेमेंट बढ़ा है उसी स्पीड से साइबर धोखाधड़ी के मामलों में भी इजाफा हुआ है. इसलिए किसी भी अंजान लिंक, आकर्षक ऑफर और अंजान कॉल से अलर्ट रहना चाहिए.

साइबर क्राइम के बढ़ते इन मामलों को देखते हुए सरकार समय-समय पर लोगों को अलर्ट भी करती रहती है. लोगों को साइबर क्राइम को लेकर जागरुक करने के लिए गृह मंत्रालय ने साइबर दोस्त (Cyber Dost) नाम से एक ऐप भी बनाया हुआ है.

यह भी पढ़ें- UPI PIN से होने वाले फ्रॉड से कैसे बचें, NPCI ने किया अलर्ट

साइबर दोस्त ने किया अलर्ट
सरकार ने इस बार साइबर दोस्त के मार्फत एक नए खतरे को लेकर अलर्ट किया है. सरकार ने लोगों को ओटीपी फ्रॉड (OTP Fraud) को लेकर सतर्क किया है. सरकार का कहना है कि ओटीपी (OTP) को कॉल के द्वारा भी चुराया जा सकता है.

सरकार ने सलाह दी है कि कभी भी फोन पर किसी अनजान से बात करते हुए कोई और कॉल को मर्ज ना करें. कॉल मर्ज होते ही जालसाज ओटीपी जानकर आपका अकाउंट हैक कर सकते हैं. इस बारे में जागरुक रहें, सतर्क रहें. फ्रॉड का शिकार होने पर अपनी शिकायत cybercrime.gov.in पर दर्ज कर सकते हैं.

निजी जानकारी शेयर ना करें
डिजिटल पेमेंट करते समय आपके फोन पर ओटीपी नंबर आता है. इस ओटीपी के बाद ही आपकी ट्रांजैक्शन पूरा होता है. ध्यान रखें कि अपना ओटीपी नंबर किसी से शेयर ना करें. अपने बैंक खाते की जानकारी किसी को भी ना दें. बैक खाता, एटीएम कार्ड या क्रेडिट कार्ड की जानकारी शेयर करने से आपका खाता खाली हो सकता है.

यह भी पढ़ें- फेल नहीं होगा ऑनलाइन ट्रांजैक्शन, Google Pay पर फॉलो करें ये स्टेप्स

सुरक्षित प्लेटफॉर्म नहीं है WhatsApp
साइबर सुरक्षा कंपनी कैस्पर्सकी (cybersecurity company Kaspersky) के डायरेक्टर दिमित्री बेस्टुज़ेव (Dmitry Bestuzhev) का कहना है कि वॉट्सऐप में सुरक्षा को लेकर कई खामियां हैं. वॉट्सऐप पर यजूर्स को किसी भी तरह की अपनी पर्सनल जानकारी शेयर नहीं करनी चाहिए.

दिमित्री बेस्टुज़ेव ने कहा कि यह समझना महत्वपूर्ण है कि वॉट्सऐप एक सुरक्षित प्लेटफॉर्म नहीं है, हालांकि कई लोग सोचते हैं कि यह महफूज है. उन्होंने कहा कि स्कैमर्स वॉट्सऐप यूजर्स के डेटा पर नजर गढ़ाए बैठे हैं और बड़े मौके की तलाश में हैं.

Tags: Cyber Crime, Cyber Fraud, Online fraud

Related posts:

Goa Assembly Election 2022 Aldon Legislative Assembl Seat Bjp aap congress mgp tmc,gfp Glenn D Souza...
Sanjay dutt write heart touching note after kfg chapter one complete three year
Ashok Gehlot big statement on six MLA appointed as media advisors to Chief Minister attacks on BJP -...
Cm Jairam Thakur Speech In Mandi Himachal Pradesh - सीएम जयराम बोले- अपनत्व का अहसास कराते हैं पीएम,...
Police seized 1 quintal of explosives and weapons from forest naxal terror in bihar jhnj
Chhatarpur: After Confiscation In The Police Station, The Gang Who Stole And Sold Cartridges Was Exp...
Attempt To Rape A Student In Jnu By Dragging Her Into The Bushes - जेएनयू में छात्रा को झाड़ियों में...
Private Schools Asking Parents For Vaccine Certificate In Lucknow - सख्ती: वैक्सीन की एक भी डोज नहीं...
Madhya Pradesh: Bird Flu Knocked In Agar Of Mp, Meat Shops Closed - मध्यप्रदेश: मप्र के आगर में बर्ड...
Indore: Lady Did Last Rituals Before Death And Served Food; After Death Donated Eyes And Body - इंदौ...
Alsi ki Pinni Recipe Alsi ke Laddu Banane ka Tarika neer
BSP Chief Mayawati on UP Election BJP Samajwadi Party politics
Supreme court gives green signal to modi governments char dham all weather road project
Jabalpur: Diatom Test Will Reveal The Secret Of Death In The Case Of Dead Couple Of Lovers In The We...
Today Corona Cases In India 25 January, Covid Cases India, Active Case, Death Case, Health Ministry ...
Sharjeel Imam case Delhi courts on CAA and speech

Leave a Comment