Doctor uses own sperm for ivf without informing Women US clinic center

नई दिल्ली. आज के समय में वैसे लोग जो मां-बाप नहीं बन पाते, उनके लिए फर्टिलिटी सेंटर (IVF) किसी वरदान से कम नहीं हैं. वे बड़ी आशाओं और उम्मीदों के साथ वहां जाती हैं कि उनकी गोद अब खाली नहीं रहेगी और जल्द ही घर में बच्चों की किलकारियां गूंज उठेंगी. दूसरे शब्दों में कहा जाए, तो ऐसे लोगों के लिए ये फर्टिलिटी सेंटर उम्मीद की किरण बनकर आए हैं, लेकिन एक डॉक्टर ने इस पेशे का गलत इस्तेमाल करते हुए अपने क्लीनिक में आई महिलाओं को अपने ही स्पर्म के जरिए प्रेग्नेंट कर दिया. इतना ही नहीं, डॉक्टर ने ये सब कुछ किसी परिवार को बताए बिना किया.

इस डॉक्‍टर का नाम पॉल जोंस (Dr Paul Jones) है और वे काफी लंबे समये से यह काम कर रहे थे, लेकिन अब उसकी इस हरकत पर पर्दा उठ गया है. एक टीवी शो में डॉ जोंस के इन गलत कामों को उजागर किया गया. वेबसाइट डेली स्‍टार के मुताबिक, दो बहनों माइया सिमंस (Maia Simmons) और ताहनी स्‍कॉट (Tahnee Scot) ने इस पूरे मामले का खुलासा किया है.

ऐसे हुआ डॉक्टर की हरकतों का खुलासा
इन दोनों बहनों ने एक न्यूज कार्यक्रम The Truth About My Conception में डॉक्टर के बारे में सारी पोल खोली. इन दोनों के ही पिता जॉन इमंस एक गंभीर बीमारी टेस्टिकुलर कैंसर का सामना कर रहे थे. इसका सीधा मतलब यह था कि जॉन और उनकी पत्‍नी चेरिल इमंस बच्‍चे पैदा करने में सक्षम नहीं थे. इसी वजह से उन्हें फर्टिलिटी सेंटर का रुख करना पड़ा और साल 1980 व 1985 में वे आरोपी डॉ पॉल के पास गए थे, जिनका अमेरिका के वेस्‍टर्न कॉलरेडो में क्‍लीनिक है. लेकिन यहां उस डॉक्टर ने चेरिल को बिना बताए ही उनके अंदर खुद का स्‍पर्म दे दिया.

कुल 14 बार डॉक्टर ने इस्तेमाल किया था अपना स्पर्म
साल 2018 दोनों युवती से Ancestry.com पर किसी व्यक्ति ने संपर्क किया था. उसने एक संदेश में लिखा था, ऐसा लगता है कि हम आपस में भाई-बहन हैं. मेरे पिता वेस्‍टर्न कॉलरेडो में स्‍पर्म डोनर है. मैंने अपनी तरह दिखने वाले 3 और भाई-बहनों को ढूंढ लिया है.’ दूसरी ओर, दोनों बहनों माइया और ताहनी ने जेनेटिक टेस्टिंग वेबसाइट के जरिए अब तक अपने 12 ऐसे भाई बहनों को खोज निकाला है. मतलब कि आरोपी डॉ पॉल ने कुल मिलाकर 14 बार अपना स्पर्म इस्तेमाल किया था.

इस जानकारी के बाद से माइया काफी नाराज है. उसने कहा कि इस घटना के बारे में मुझे 38 सालों के बाद पता चला है. गौरतलब है कि इन्हीं हरकतों की वजह से साल 2019 में डॉ जोंस का मेडिकल लाइसेंस जब्‍त कर‍ लिया गया था.

Tags: IVF, Pregnant Women, United States

Related posts:

Incredible discovery in uk of 60,000 year old historic animals like woolly mammoth shitri
Uttarakhand Election 2022: Aam Aadmi Party Leader Ravindra Jugran Joins Bjp Today - Uttarakhand Elec...
Jammu-kashmir: Fire And Fury Corps Pays Tribute To The Martyrs Of The 1971 War - जम्मू-कश्मीर: 1971 ...
Rohini acharya daughter of lalu prasad yadav confirms engagement and marriage of tejashwi yadav bram...
 Bcci AGM india tour of south Africa to begin on December 26 confirms bcci in its agm
Firozabad Corona Virus Cases Increased Ganesh Nagar Hot Spot - फिरोजाबाद में कोरोना संक्रमण: गणेश नग...
Plastic mixed rice found in barbanki villagers do not want to eat
Indore: Spoke On The Topic Of Gharanadar Singing And New Flow, The Decline Of Classical Music Due To...
Grey lips skin or nails may sign of Covid 19 US doctor claims Lak
Pooja Hegde ने पूरी की 'Radhe shyam' की डबिंग, मकर संक्राति पर Prabhas संग बयां करेंगी Love Story
Many Trains Will Be Affected By Traffic Block: Construction Work Will Be Done On Many Rail Sections ...
Maruti suzuki wagonr price in pakistan features specifications model check prices mbh
Indore: Speed Of Corona Started Increasing, 55 Patients Found In Indore In 24 Hours, Number Of Activ...
Narendra Modi Said That Country Will Fight Against Corona With Caution And Vigilance The Pace Of Dev...
Teenagers will get the first dose of corona vaccine from 3 January in Himachal nodbk
Bajra malida or bajre ki roti ka malida recipe and its benefits mt

Leave a Comment