Himachal Sirmour News: Bpl Family Living In Slum In Sirmour – दिहाड़ी लगाकर गुजारा: 15 साल से दूसरे के झोपड़े में रह रहा बीपीएल परिवार

हितेश शर्मा, संवाद न्यूज एजेंसी, नाहन (सिरमौर)
Published by: अरविन्द ठाकुर
Updated Tue, 23 Nov 2021 10:47 AM IST

सार

छह बेटियों और एक बेटे के पिता सोहन सिंह पत्नी के साथ पिछले 15 साल से दूसरे के घर में शरण लेकर रह रहे हैं। रेणुका विधानसभा क्षेत्र की दुर्गम भाटगढ़ पंचायत के बांदल गांव के रहने वाले सोहन सिंह पुत्र हीरा सिंह को 2017 में पंचायत ने बीपीएल श्रेणी में दर्ज तो किया, लेकिन आवास के लाभ से कोसों दूर है।

रेणुका के बांदल गांव में कच्चा मकान, जिसमें गरीब परिवार रह रहा है। वहीं, परिवार के साथ सोहन सिंह।
– फोटो : संवाद

ख़बर सुनें

गुरबत भरा जीवन कैसा होता है, यह कोई सोहन सिंह से पूछे। बीपीएल योजना में शामिल होने पर भी खुद का आशियाना नहीं। बेटियों को पढ़ाने तक के पैसे नहीं। दो वक्त की रोटी का गुजारा भी दिहाड़ी से चल रहा है। कभी शिमला तो कभी पंचायत में किसी अन्य के घर कामकाज कर नौ सदस्यीय परिवार का पेट पाल रहा है। भले ही सरकार हर गरीब तक आवास योजना का लाभ पहुंचाने के दावे कर ले, लेकिन सोहन सिंह को आज तक इस योजना का लाभ नहीं मिल सका।

छह बेटियों और एक बेटे के पिता सोहन सिंह पत्नी के साथ पिछले 15 साल से दूसरे के घर में शरण लेकर रह रहे हैं। रेणुका विधानसभा क्षेत्र की दुर्गम भाटगढ़ पंचायत के बांदल गांव के रहने वाले सोहन सिंह पुत्र हीरा सिंह को 2017 में पंचायत ने बीपीएल श्रेणी में दर्ज तो किया, लेकिन आवास के लाभ से कोसों दूर है। डेढ़ दशक पहले सोहन सिंह को गांव के पृथ्वी सिंह ने अपने घर में शरण दी। वह किसी और गांव में रह रहे हैं।

अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखने वाले सोहन सिंह ने 2 जून, 2017 को आवास उपलब्ध कराने के कागजात संगड़ाह स्थित कल्याण विभाग को उपलब्ध कराए। आजतक आवास योजना उन तक नहीं पहुंची। बिजली का मीटर जरूर मिला, लेकिन इसे पृथ्वी सिंह के घर पर लगाया गया है। इसको लेकर सोहन सिंह जामूकोटी में गत दिन हुए जनमंच में भी पहुंचे। यहां अपनी स्थिति का दुखड़ा ऊर्जा मंत्री को सुनाया। हालांकि, मंत्री ने इस विषय में अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। सोहन सिंह ने बताया कि वह अपनी गरीबी के चलते दो बड़ी बेटियों को आठवीं कक्षा से आगे नहीं पढ़ा सके।

चार बेटियां अभी छोटी क्लास में हैं। उन्होंने बताया कि उसका आवेदन आवास योजना के लिए गया है पर कुछ नहीं बन पाया। बीडीओ संगड़ाह हरमेश ठाकुर ने बताया कि मामले का पता लगाया जाएगा कि आवास योजना में किस नंबर पर है। मामला पुराना है। 2021-22 में सीएम आवास योजना के तहत विकास खंड की 44 पंचायतों में पांच आवास को मंजूरी मिली है। सोहन सिंह के केस का पता लगाया जाएगा।

विस्तार

गुरबत भरा जीवन कैसा होता है, यह कोई सोहन सिंह से पूछे। बीपीएल योजना में शामिल होने पर भी खुद का आशियाना नहीं। बेटियों को पढ़ाने तक के पैसे नहीं। दो वक्त की रोटी का गुजारा भी दिहाड़ी से चल रहा है। कभी शिमला तो कभी पंचायत में किसी अन्य के घर कामकाज कर नौ सदस्यीय परिवार का पेट पाल रहा है। भले ही सरकार हर गरीब तक आवास योजना का लाभ पहुंचाने के दावे कर ले, लेकिन सोहन सिंह को आज तक इस योजना का लाभ नहीं मिल सका।

छह बेटियों और एक बेटे के पिता सोहन सिंह पत्नी के साथ पिछले 15 साल से दूसरे के घर में शरण लेकर रह रहे हैं। रेणुका विधानसभा क्षेत्र की दुर्गम भाटगढ़ पंचायत के बांदल गांव के रहने वाले सोहन सिंह पुत्र हीरा सिंह को 2017 में पंचायत ने बीपीएल श्रेणी में दर्ज तो किया, लेकिन आवास के लाभ से कोसों दूर है। डेढ़ दशक पहले सोहन सिंह को गांव के पृथ्वी सिंह ने अपने घर में शरण दी। वह किसी और गांव में रह रहे हैं।

अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखने वाले सोहन सिंह ने 2 जून, 2017 को आवास उपलब्ध कराने के कागजात संगड़ाह स्थित कल्याण विभाग को उपलब्ध कराए। आजतक आवास योजना उन तक नहीं पहुंची। बिजली का मीटर जरूर मिला, लेकिन इसे पृथ्वी सिंह के घर पर लगाया गया है। इसको लेकर सोहन सिंह जामूकोटी में गत दिन हुए जनमंच में भी पहुंचे। यहां अपनी स्थिति का दुखड़ा ऊर्जा मंत्री को सुनाया। हालांकि, मंत्री ने इस विषय में अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। सोहन सिंह ने बताया कि वह अपनी गरीबी के चलते दो बड़ी बेटियों को आठवीं कक्षा से आगे नहीं पढ़ा सके।

चार बेटियां अभी छोटी क्लास में हैं। उन्होंने बताया कि उसका आवेदन आवास योजना के लिए गया है पर कुछ नहीं बन पाया। बीडीओ संगड़ाह हरमेश ठाकुर ने बताया कि मामले का पता लगाया जाएगा कि आवास योजना में किस नंबर पर है। मामला पुराना है। 2021-22 में सीएम आवास योजना के तहत विकास खंड की 44 पंचायतों में पांच आवास को मंजूरी मिली है। सोहन सिंह के केस का पता लगाया जाएगा।

Related posts:

Rajya Sabha Remains Disruption Free On Wednesday After 41 Sittings In Four Sessions News And Updates...
Covid 19 third wave most corona infected patients found in up after july nodelsp
Haryana Top News 03 January 2022 - हरियाणा की बड़ी खबरें: बहादुरगढ़ में किसान नेताओं की मीटिंग, प्रद...
Uidi looking at blockchain technology to make aadhaar more secure rrmb
Basmati rice company grm overseas stock zooms 300 percent in 3 months rrmb
Car Riders Crashed The Police Team Inspector Killed In Mathura - मथुरा में बड़ा हादसा: कार सवारों ने...
तालिबान: अफगानिस्तान में मानवीय संकट के लिए पाकिस्तान जिम्मेदार
Uttarakhand: Justice Sanjay Kumar Mishra Appointed As The Acting Chief Justice Of The High Court - उ...
Common cough cold seasonal infection flu sneezing decreased after corona vaccination and covid 19 in...
Kashi Vishwanath Dham Inauguration Cm Yogi And Bjp President Jp Nadda Will Come To Varanasi Today Be...
फटाफट अंदाज में सुनें उत्तर प्रदेश चुनाव की हर बड़ी खबर
Man Who Lost His Life In Ludhiana Bomb Blast Has Been Identified - लुधियाना बम धमाका: मारे गए व्यक्त...
Drunk Father Beat Divyang Son To Death With Stick - नशे में धुत पिता ने दिव्यांग बेटे की पीटकर हत्या...
Dharmendra met sachin tendualkar in hawai jahaaz says mera pyara beta pr
Deer amazing jump in jungle looks like flying viral video ashas
Cm Gehlot Cabinet Meeting: Cm's Review Meeting On Corona Control, Took Stock Of The Situation In The...

Leave a Comment