Lata Mangeshkar Visited The Taj Mahal With Siblings In 1965 – लता मंगेशकर: 1965 में भाई-बहनों के साथ ‘स्वर कोकिला’ ने किया था ताज का दीदार, देखिए दुर्लभ तस्वीरें

स्वर कोकिला भारत रत्न लता मंगेशकर के निधन से करोड़ों संगीत प्रेमियों का ह्रदय शोक से भर गया। ताजनगरी में उनकी आवाज के प्रशंसक निधन की खबर मिलने के बाद उनकी यादों में खो गए, जब वह ताजमहल के दीदार के लिए बहनों और भाई के साथ आगरा आई थीं। बात 1965 की है, जब स्वर कोकिला अपनी बहन आशा भोसले, ऊषा मंगेशकर और भाई ह्रदयनाथ मंगेशकर के परिवार के साथ ताजमहल आईं। फोटोग्राफी की शौकीन लता मंगेशकर के हाथों में फ्लैश के साथ बड़ा कैमरा बना रहा। उन्होंने अपने फोटोग्राफी के शौक के साथ ताज पर बहनों और भाइयों के साथ उनके बच्चों के फोटो भी खींचे। कलाकुंज और स्पीड कलर लैब के संस्थापक प्रसिद्ध फोटो जर्नलिस्ट स्वर्गीय. सत्य नारायण गोयल ने आगरा और मथुरा में उनके भ्रमण के दौरान उनके एक एक फोटो को सहेज कर रखा। 

स्वर्गीय सत्य नारायण गोयल के पुत्र विजय गोयल ने दुर्लभ चित्रों के संग्रह को लता मंगेशकर के निधन पर साझा किया। उन्होंने बताया कि उनके पिता बताते थे कि ताजमहल के दीदार के लिए पूरे परिवार के साथ लता आगरा आई थीं। आगरा के बाद वह मथुरा में स्वामी हरिदास की समाधि और निधिवन के भ्रमण के लिए भी गई थीं। स्वामी हरिदार की समाधि पर वह बेहद गंभीर भाव के साथ रहीं, जबकि निधिवन में उन्होंने बंदरों को चने खिलाए। यहां आशा भौंसले और उनके परिवार ने निधिवन के पेड़ों के साथ फोटोग्राफी कराई थी। 

1965 की इस यात्रा के बाद लता मंगेशकर 1980 में भी आगरा आईं, लेकिन इस बार ताजमहल नहीं गई थीं। फतेहाबाद रोड स्थित होटल आईटीसी मुगल में वह ठहरी थीं। दो दिन तक वह आगरा रहीं थी। 1980 में मुगल होटल की लॉबी में रखे झूले पर उन्होंने यादगार फोटोग्राफी कराई थी, जिसमें वह काफी खुशमिजाज मूड में नजर आई थीं। 

आगरा किला में गीत नहीं गा सकीं लता

टूरिज्म गिल्ड ऑफ आगरा के पूर्व अध्यक्ष अरुण डंग के मुताबिक 1962 में भारत चीन युद्ध के बाद 1963 में आगरा किला में सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए लता मंगेशकर को आमंत्रित किया गया था, लेकिन वह नहीं आ पाई थीं। उस कार्यक्रम में तब के पार्श्व गायक मन्ना डे, महेंद्र कपूर, तलत महमूद ने हिस्सा लिया था, लेकिन लता मंगेशकर किले के दीवान ए आम में गीत न गा पाईं। 

इसके दो साल बाद वह 1965 में अपनी बहनों और उनके बच्चों के साथ ताजमहल देखने आई थीं। किसी कार्यक्रम नहीं, बल्कि विशेष रूप से ताजमहल के दीदार के लिए ही आई थीं। अरुण डंग बताते हैं कि 1976 में वाशिंगटन के कैनेडी सेंटर में हुए कार्यक्रम में उन्हें सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर को लाइव सुनने का मौका मिला था।

Related posts:

Under The Business Blasters Program Of The Delhi Government, Students Are Given Financial Assistance...
Actor Sonu Sood started Tractor in new Style without key watch here Video Bhojpuri South Raya
Good news positive news purnia central jail prisoners are learning music and taking education in mus...
BOB Recruitment 2021 bank jobs 2021 government jobs sarkari naukri 2021Last date of application for ...
Jammu Accident Insurance Cover Of 10 Lakhs For Government Employees, Will Be Effective Till December...
Tomato prices to remain elevated for two more months crisil research nodvkj - Tomato Price: महंगे टम...
Sehore: Road Will Be Built From Machipul To Lunia Intersection And Ganesh Temple, Mla Sudesh Rai Hel...
Trinamool Congress delegation cancels Nagaland tour | तृणमूल कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने नागालैंड क...
Health news fenugreek seeds amazing benefits methi ke beej ke fayde pra
Akshay Kumar is not angry with Kapil Sharma read the comedian tweet EntPKS - कपिल शर्मा से नाराज नही...
BCCI President Sourav Ganguly opens up Why Virat Kohli axed as ODI Captain
Now book Uber rides in India through WhatsApp | भारत में अब व्हाट्सएप के जरिए बुक करें उबर की सवारी
High Court: Rejection Of Bail Application Of Director And Ceo Of Rotomac Global Pvt Ltd - हाईकोर्ट :...
एयरटेल: एयरटेल प्रीपेड उपयोगकर्ताओं को अतिरिक्त 500MB डेटा लाभ दे रहा है: विवरण
Hanuma Vihari Shreyas Iyer Might Have To Wait For Regular Chances Indicates Coach Rahul Dravid
Top ten news of 30th december 2021 omicron in delhi corona in up india vs south africa booster dose

Leave a Comment