Madhya Pradesh: Ban On Meeting With Jail Inmates, Relatives Will Be Able To E-meet – मध्य प्रदेश: जेल के कैदियों से मुलाकात पर लगी रोक, ई-मुलाकात कर सकेंगे परिजन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भोपाल
Published by: अंकिता विश्वकर्मा
Updated Sat, 15 Jan 2022 03:39 PM IST

सार

मध्य प्रदेश में जेल विभाग ने कैदियों से मुलाकात पर 31 मार्च तक रोक लगा दी है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को देखते हुए ये फैसला लिया गया है। इस अवधि में परिजन और मित्र कैदियों से ई-मुलाकात और फोन कॉल के जरिए बात कर सकेंगे।

मध्य प्रदेश में कैदियों से मुलाकात पर 31 मार्च तक प्रतिबंध  (सांकेतिक फोटो)

मध्य प्रदेश में कैदियों से मुलाकात पर 31 मार्च तक प्रतिबंध (सांकेतिक फोटो)
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

विस्तार

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को देखते हुए राज्य जेल विभाग ने कैदियों से मुलाकात पर प्रतिबंध लगा दिया है। 31 मार्च तक अब कैदियों से मुलाकात नहीं की जा सकेगी। हालांकि परिजन ई-मुलाकात कर सकेंगे। जेल विभाग के आदेश के अनुसार जेलों के अंदर महामारी के प्रसार को रोकने के लिए कैदियों के दोस्तों, परिवार के सदस्यों और परिचितों की मुलाकात पर 31 मार्च तक प्रतिबंध रहेगा। जेल के कैदी ई-मीटिंग (वीडियो के माध्यम से), कॉल और इनकमिंग फोन कॉल की सुविधा का लाभ उठा सकेंगे।

ऐसे हो सकेगी ई-मुलाकात

परिजन जेल में बंद कैदियों से ई-मुलाकात अर्थात वीडियो कॉल या टेलीफोन कॉल के जरिए बात कर सकेंगे। परिजनों को वीडियो कॉल के लिए www.eprisons.nic.in पर जाकर ऑनलाइन एप्लाई करना होगा।  टेलीफोन के माध्यम से कैदियों से सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे के बीच बात करने की सुविधा रहेगी। 

बता दें कि बीते साल कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट के बाद परिजनों को जेल में कैदियों से मुलाकात की अनुमति दी गई थी। वहीं मार्च 2021 में  कोरोना की दूसरी लहर के दौरान लॉकडाउन की घोषणा के बाद भी जेल विभाग ने पिछले साल अक्टूबर के अंत तक जेल में कैदियों से मुलाकात पर प्रतिबंध लगा दिया था।

स्कूल बंद, रैली और मेलों पर भी प्रतिबंध

प्रदेश में संक्रमण के मामलों में फिर से वृद्धि को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने कक्षा 1 से 12 तक के सभी स्कूल और छात्रावासों को 31 जनवरी तक बंद करने की घोषणा की है। अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) डॉ राजेश राजोरा ने अनुसार स्कूलों को बंद करने के अलावा राज्य सरकार ने सभी धार्मिक और व्यावसायिक मेलों और रैलियों पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। उन्होंने कहा कि अब केवल 250 लोगों को राजनीतिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, सामाजिक, शैक्षिक, मनोरंजन और इस तरह के अन्य कार्यक्रमों में शामिल होने की अनुमति है। वहीं बंद स्थानों में केवल 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ कार्यक्रम आयोजित किए जा सकते हैं। स्टेडियमों की क्षमता के 50 प्रतिशत के साथ खेल आयोजन भी किए जा सकते हैं।

 

Related posts:

Delhi assembly 2 day special session start from today Delhi Teachers University Amber Alert read top...
Big Road Accident In Himachal Pradesh Two Tourist Buses Overturned In Bilaspur - हिमाचल प्रदेश में ब...
Kumkum bhagya 29th dec update ranbir says to rhea that prachi is his wife
Chief minister nitish kumar is not first person who talking about social reform taunts by tejashwi y...
Akshar Patel Record: Akshar Took 5 Wickets On His Father's Birthday, Said - Never Saw Himself As A T...
Delhi Government New Corona Guidelines Shops Malls Complex And Markets Will Open Odd-even For Corona...
Supreme Court Says Bride Jewellery Custody For Safety Not Cruelty Under Section 498a Of Ipc - सुप्री...
Armys court of inquiry team visits the site of the december 4 firing in nagaland
Jammu High Court: 90 Days Time Required For Review Petition - जम्मू हाईकोर्ट: पुनर्विचार याचिका के ल...
Corona update hospitalisation due to coronavirus covid 19 across country see rise omicron
Indore: Police Caught The Youth Who Stole The Wedding Ceremony, Recovered Gold Jewelery - इंदौर: शाद...
Corona blast 82 person were found corona positive here today nodmk8
Bhopal: The Strike Of Junior Doctors Ended After Five Days, Returned To Work After The Assurance Of ...
Uidai Planning To Provide Aadhar Enrolment To Newborn Babies In Hospital Very Soon All You Need To K...
शेष दो एशेज टेस्ट मेलबर्न में कराने का माइकल वॉन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से किया अनुरोध | Michael Vau...
Raghav Juyal dating a Swedish girl Sara Arrhusius pics viral on social media ps

Leave a Comment