Omicron not just common cold centre counters its own epidemiologist – केंद्र ने अपने ही विशेषज्ञ की बात काटी, कहा

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) को तेजी से फैल रहे वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के बारे में केंद्र सरकार ने फिर चेतावनी भरे लहजे में लोगों को सावधान किया है. कोरोना महामारी के सिलसिले में केंद्र सरकार को मशविरा देने के लिए बने कार्यबल (Covid Task Force) के प्रमुख डॉक्टर वीके पॉल (Dr. VK Paul) ने कहा है, ‘ओमिक्रॉन (Omicron) कोई सामान्य सर्दी-जुकाम नहीं है. हम देख रहे हैं कि इस संबंध में गलतफहमियां फैल रही हैं. इनसे बचने की जरूरत है.’

डॉक्टर पॉल ने कहा, ‘ओमिक्रॉन (Omicron) संक्रमण की रफ्तार पर लगाम लगाना हम सबकी जिम्मेदारी है. इसलिए सभी लोग ऐहतियात बरतें. मास्क लगाएं. भीड़-भाड़ वाली जगहों से दूर रहें. बहुत जरूरी न हो तो यात्रा से बचें. बातचीत के दौरान दो गज की दूरी बरतें. हाथ धोएं और सैनिटाइजेशन का ध्यान रखें. जिन्होंने अब तक वैक्सीन (Vaccine) नहीं लगवाई है, वे जरूर अपनी खुराक लें. इसी सब से हम कोरोना वायरस (Corona Virus) को मात दे सकते हैं.’

बता दें कि अभी मंगलवार को ही भारतीय चिकित्सा शोध परिषद (Indian Council of Medical Research-ICMR) के महामारी विज्ञान विशेषज्ञ (Epidemiologist) जयप्रकाश मुलियिल ने कहा था, ‘कोरोना से निपटने के लिए बनाए गए नियमों पर फिर विचार की जरूरत है. इसकी वजह ये है कि अब महामारी के परिणाम सामान्य सर्दी-जुकाम की तरह सामने आ रहे हैं. ओमिक्रॉन (Omicron) पिछले तमाम कोरोना वेरिएंट की तुलना में बहुत हल्का है. यह डराने वाला नहीं है.’ डॉक्टर मुलियिल आईसीएमआर (ICMR) के राष्ट्रीय महामारी विज्ञान संस्थान (National Institute of Epidemiology) की वैज्ञानिक सलाहकार समिति (Scientific Advisory Committee) के प्रमुख हैं.

वहीं डॉक्टर पॉल ने कहा, ‘ओमिक्रॉन (Omicron) को गंभीरता से लेने की जरूरत है. यह हमारी स्वास्थ्य-व्यवस्था पर कभी भी बड़ी चोट कर सकता है.’ गौरतलब है कि भारत में कोरोना (Corona) संक्रमण के मामले पिछले कुछ दिनों फिर बढ़ने लगे हैं. कोलकाता में संक्रमण 60%, मुंबई में 27% और दिल्ली में 23% हो चुकी है. संक्रमण की इस तेज रफ्तार के लिए ओमिक्रॉन (Omicron) को जिम्मेदार बताया जा रहा है.

Tags: Coronavirus, Omicron

Leave a Comment