Punjab Assembly Elections Joginder Singh Mann Congress leader resigned may join AAP

फगवाड़ा. कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व मंत्री जोगिंदर सिंह मान (Joginder Singh Mann) ने शुक्रवार को पार्टी से 50 साल पुराना नाता तोड़ते हुए इस्तीफा दे दिया. अनुसूचित जाति (SC) समुदाय के नेता मान करोड़ों रुपये के कथित पोस्ट-मैट्रिक एससी छात्रवृत्ति घोटाले के अपराधियों के खिलाफ ‘कोई कार्रवाई नहीं’ किये जाने और फगवाड़ा को जिला का दर्जा नहीं देने से नाराज थे. उन्होंने पार्टी और पंजाब कृषि उद्योग निगम के अध्यक्ष के रूप में इस्तीफा दे दिया. सूत्रों ने बताया कि मान के आम आदमी पार्टी (AAP) में शामिल होने की संभावना है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पत्र में, फगवाड़ा के पूर्व विधायक ने कहा कि उनका एक सपना था कि वह एक कांग्रेसी के रूप में मरेंगे. उन्होंने कहा, ‘लेकिन मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के दोषियों को कांग्रेस का संरक्षण है, और ऐसे में मेरी अंतरात्मा मुझे यहां (पार्टी में) रहने की अनुमति नहीं देती है.’ मान बेअंत सिंह, राजिंदर कौर भट्टल और अमरिंदर सिंह नीत सरकारों में मंत्री रह चुके हैं.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘कैप्टन अमरिंदर सिंह,नवजोत सिंह सिद्धू जैसे राजे महाराजे, धनाढ्य और अवसरवादी नेता जब से कांग्रेस में आये,उन्होंने अपने निहित स्वार्थों के लिये पार्टी का इस्तेमाल किया और पार्टी के सिद्धांत और मूल्य हाशिये पर चले गये. बस सबका एक ही मूल मंत्र रह गया कि किस तरह चुनाव जीतकर सत्ता को हथियाया जाये.’

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान से पंजाब लाए गए थे IED और RDX, पुलिस ने किए कई बड़े खुलासे

एससी छात्रवृत्ति घोटाला 2020 में तत्कालीन अतिरिक्त मुख्य सचिव की एक रिपोर्ट के बाद सामने आया था, जिसमें 55.71 करोड़ रुपये की कथित हेराफेरी का पता चला था. रिपोर्ट में तत्कालीन सामाजिक न्याय मंत्री साधु सिंह धर्मसोत की कथित रूप से घोटाले में शामिल लोगों को बचाने में भूमिका पर भी सवाल उठाया गया था. तत्कालीन मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राज्य के तत्कालीन मुख्य सचिव को पूरी जांच करने का निर्देश दिया था. आईएएस अधिकारियों की तीन सदस्यीय समिति के निष्कर्षों के आधार पर मुख्य सचिव की रिपोर्ट में धर्मसोत को दोषी नहीं बताया गया था.

मान ने कहा कि वह पहले दिन से तत्कालीन मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और मौजूदा मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के सामने फगवाड़ा को जिला का दर्जा देने के मुद्दे को उठा रहे थे. उन्होंने आरोप लगाया कि लेकिन इस पर कोई ध्यान देने के बजाय उन्होंने फगवाड़ा के निवासियों की लंबे समय से लंबित इस मांग को नजरअंदाज कर उनकी भावनाओं और आकांक्षाओं को ठेस पहुंचाई है.

Related posts:

CRIME SP Amitesh Kumar Khagaria suspended two police SHO forsent youth to jail after fake case brvj
How covid 19 has changed our life in 2021 in hindi pra
Uttarakhand chunav 2022 discussion names of candidates in uttarakhand congress meeting harak singh r...
Kgf Chapter 2: केजीएफ चैप्टर 2 में संजय दत्त और एक्टर यश में इस बात को लेकर होगी जंग, ये है फिल्म की...
Noida four people died in a horrific road accident nodbk
Cinnamon Benefits Dalchini ke Fayde Uses of Dalchini neer
Corona vaccine was given to 17 years old girl in jamui her health deteriorated admitted to hospital
Sub registrar mani ranjan dhankuber stood on heap of corruption svu team recovered huge assets brvj
Chilli Garlic Prawns Recipe made with fresh prawns spices chilli garlic sauce in winter pur
How to get rid of darkness of underarms mt
Bihar Mausam samachar imd rainfall light hail storms alert coldwave forecast bihar weather update no...
Sibal told the Supreme Court, despite the directions of the court, security arrangements were not ma...
Delhi News: Today Is The Last Day To Secure Seats For B.tech. - जैक दिल्ली : बीटेक के लिए सीट सुनिश्...
It Raids On The Premises Of Sp Mlc Pushpraj Jain Pumpi - शिकंजा: इत्र व्यापारी पुष्पराज जैन के ठिकान...
Hindi department of AMU was closed after getting corona infected – News18 हिंदी
KBC 13 Rajnandini could not answer the question of 1 crore will you be able to give an

Leave a Comment