Rajasthan Bjp President Satish Poonia Says cm Gehlot Ghoshnajeevi Only Making Announcements For Last 3 Years – राजस्थान: भाजपा का आरोप, अशोक गहलोत सिर्फ ‘घोषणाजीवी’, पिछले तीन साल से सिर्फ घोषणाएं कर रहे हैं

पीटीआई, जयपुर
Published by: देव कश्यप
Updated Sun, 19 Dec 2021 12:28 AM IST

सार

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि मुख्यमंत्री पिछली घोषणाएं और वादे को पूरा करने के बजाय सिर्फ घोषणाएं करने में ही व्यस्त हैं और अपनी कुर्सी बचाने के जुगाड़ में लगे हैं।  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एक ‘घोषणाजीवी’ हैं। वह पिछले तीन वर्षों से केवल घोषणाएं कर रहे हैं, लेकिन धरातल पर कुछ भी नहीं है।

राजस्थान भाजपा अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया।
– फोटो : PTI

ख़बर सुनें

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने शनिवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ‘घोषणाजीवी’ करार दिया और उन पर पिछले तीन साल से सिर्फ घोषणाएं करने का आरोप लगाया। राजस्थान की कांग्रेस सरकार के कार्यकाल के तीन साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा की गई नई घोषणाओं को लेकर प्रतिक्रिया में पूनिया ने यह बात कही।

उन्होंने कहा, ”मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ‘घोषणाजीवी’ हैं, पिछले तीन साल से सिर्फ घोषणाएं कर रहे हैं, धरातल पर कुछ नहीं है।’ भाजपा नेता ने कहा कि 2018 के कांग्रेस के जन घोषणापत्र में प्रदेश के सभी किसानों का पूरा कर्जा माफ करने का वादा किया गया था, आज प्रदेश के 60 लाख किसान कर्ज माफ होने का इंतजार कर रहे हैं।

शनिवार को अपनी सरकार की तीसरी वर्षगांठ पर मुख्यमंत्री निवास में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में गहलोत ने 13,195 करोड़ रुपये के 2,512 विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया। इस दौरान गहलोत ने दावा किया कि उनकी सरकार ने पिछले तीन बजटों में की गई 87 प्रतिशत घोषणाओं को पूरा किया है।

पूनिया ने कहा, “मुख्यमंत्री पिछली घोषणाएं और वादे को पूरा करने के बजाय सिर्फ घोषणाएं करने में ही व्यस्त हैं और अपनी कुर्सी बचाने के जुगाड़ में लगे हैं।’ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एक ‘घोषणाजीवी’ हैं। वह पिछले तीन वर्षों से केवल घोषणाएं कर रहे हैं, लेकिन धरातल पर कुछ भी नहीं है।”

सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी साधा निशाना
राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी गहलोत सरकार की तीसरी बरसी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि “सरकार की गलत नीतियों का खामियाजा जनता भुगत रही है। अपराध का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है और अपराधियों में कोई खौफ नहीं है। उन्होंने दावा किया कि राजस्थान महिलाओं के खिलाफ अपराध में पहले स्थान पर पहुंच गया है और बच्चों के खिलाफ अपराध में पांचवें स्थान पर है।”

बेनीवाल ने आरोप लगाया, “बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार है और सरकार शासन में पारदर्शिता की बात करती है। राज्य में सड़कों की स्थिति खराब है और किसानों के लिए पूर्ण ऋण माफी और बेरोजगारी भत्ता के वादे पूरे नहीं किए गए हैं।” उन्होंने आरोप लगाया कि गहलोत लोगों के लिए काम करने के बजाय कुर्सी बचाने में लगे हैं।

विस्तार

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने शनिवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ‘घोषणाजीवी’ करार दिया और उन पर पिछले तीन साल से सिर्फ घोषणाएं करने का आरोप लगाया। राजस्थान की कांग्रेस सरकार के कार्यकाल के तीन साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा की गई नई घोषणाओं को लेकर प्रतिक्रिया में पूनिया ने यह बात कही।

उन्होंने कहा, ”मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ‘घोषणाजीवी’ हैं, पिछले तीन साल से सिर्फ घोषणाएं कर रहे हैं, धरातल पर कुछ नहीं है।’ भाजपा नेता ने कहा कि 2018 के कांग्रेस के जन घोषणापत्र में प्रदेश के सभी किसानों का पूरा कर्जा माफ करने का वादा किया गया था, आज प्रदेश के 60 लाख किसान कर्ज माफ होने का इंतजार कर रहे हैं।

शनिवार को अपनी सरकार की तीसरी वर्षगांठ पर मुख्यमंत्री निवास में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में गहलोत ने 13,195 करोड़ रुपये के 2,512 विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया। इस दौरान गहलोत ने दावा किया कि उनकी सरकार ने पिछले तीन बजटों में की गई 87 प्रतिशत घोषणाओं को पूरा किया है।


पूनिया ने कहा, “मुख्यमंत्री पिछली घोषणाएं और वादे को पूरा करने के बजाय सिर्फ घोषणाएं करने में ही व्यस्त हैं और अपनी कुर्सी बचाने के जुगाड़ में लगे हैं।’ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एक ‘घोषणाजीवी’ हैं। वह पिछले तीन वर्षों से केवल घोषणाएं कर रहे हैं, लेकिन धरातल पर कुछ भी नहीं है।”

सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी साधा निशाना

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी गहलोत सरकार की तीसरी बरसी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि “सरकार की गलत नीतियों का खामियाजा जनता भुगत रही है। अपराध का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है और अपराधियों में कोई खौफ नहीं है। उन्होंने दावा किया कि राजस्थान महिलाओं के खिलाफ अपराध में पहले स्थान पर पहुंच गया है और बच्चों के खिलाफ अपराध में पांचवें स्थान पर है।”

बेनीवाल ने आरोप लगाया, “बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार है और सरकार शासन में पारदर्शिता की बात करती है। राज्य में सड़कों की स्थिति खराब है और किसानों के लिए पूर्ण ऋण माफी और बेरोजगारी भत्ता के वादे पूरे नहीं किए गए हैं।” उन्होंने आरोप लगाया कि गहलोत लोगों के लिए काम करने के बजाय कुर्सी बचाने में लगे हैं।

Related posts:

Ritu Phogat will compete with Stamp Fairtex in MMA Finals may become first woman champion
Punjab Elections: Political Party Of Farmer Organizations Can Cut Votes Of Other Parties, Farmers Pr...
IND vs SA virat Kohli won 7 tests as captain in SENA countries ms dhoni Sourav Ganguly rahul dravid
Narendra Kumar of Haryana scaled Mount Kilimanjaro twice in 5 days hrrm
Tax calculation on the earnings of the stock market in simple language, investors expect relief from...
Ten people killed in road accident at pakur jharkhand bramk
India vs West Indies 1st ODI Start on Sunday is in doubt as Indian cricket team cancelled their trai...
goons looted cash from courier company did firing bramk
Corona Guidelines Ddma Exempts Solo Driver From Wearing Mask In Car - बड़ी राहत: अब कार में अकेले या...
Government Hospital Pithoragarh: Milk Is Getting Hot On Candle Flame - सीमांत जिले पिथौरागढ़ के सबसे...
Income tax raid on rakabganj Businessman Narendra Agarwal Hawala money suspected know what all found
Strike Is Not Ending Amid Rising Corona, Treatment Becomes Difficult - बढ़ते कोरोना के बीच हड़ताल नह...
Kl Rahul New Test Captain Of Team India; India Played 6 Tests At Wanderers Stadium, Johannesburg And...
एलओसी पार कर भारत में घुसने का इंतजार कर रहे 104 से 135 आतंकी | 104 to 135 terrorists waiting to cro...
Bigg Boss 15 Devoleena Bhattacharjee reveals Rakhi Sawant was jailed for 2 days Salman Khan reacts p...
Khelo India Center To Be Built In All Districts Of Himachal, Sports Ministry Approved - हिमाचल के सभ...

Leave a Comment