Republic Day Parade Indian Army Marching Contingents To Display Evolution Of Uniforms Rifles News And Updates – Republic Day: भारतीय सेना में कैसे बदलीं यूनिफॉर्म और राइफलें, गणतंत्र दिवस परेड में होगा प्रदर्शन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: कीर्तिवर्धन मिश्र
Updated Sun, 23 Jan 2022 04:43 PM IST

सार

मेजर कक्कड़ ने बताया कि 2022 के गणतंत्र दिवस में भारतीय सेना के कुल छह दस्ते नजर आएंगे। हर दस्ते में पारंपरिक 144 सैनिकों के बजाय 96 सैनिकों को जगह दी गई है, ताकि कोरोनावायरस के प्रोटोकॉल्स का भी पालन किया जा सके। 

भारतीय सेना के दस्तों में इस बार होगा कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन।

भारतीय सेना के दस्तों में इस बार होगा कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन।
– फोटो : Social Media

ख़बर सुनें

विस्तार

गणतंत्र दिवस में परेड के लिए अलग-अलग राज्यों और मंत्रालयों के साथ भारतीय सेना के तीनों अंगों ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। बताया गया है कि भारतीय थलसेना (इंडियन आर्मी) इस साल अपनी परेड में जवानों की यूनिफॉर्म और राइफलों में समय के साथ हुए बदलावों को पेश करेगी। मेजर जनरल आलोक कक्कड़ ने इस बात की जानकारी दी है। 

भारतीय सेना के तीन दस्ते पिछले दशकों की यूनिफॉर्म पहने और राइफलें उठाए मार्च करते नजर आएंगे। उधर एक दस्ता आजादी के अमृत महोत्सव का हिस्सा बने इस गणतंत्र दिवस पर भारतीय सेना की नई कॉम्बैट यूनिफॉर्म का प्रदर्शन करेगा। इस टुकड़ी के पास आधुनिक टैवोर राइफल्स भी दिखेंगी। 

मेजर कक्कड़ ने बताया कि 2022 के गणतंत्र दिवस में भारतीय सेना के कुल छह दस्ते नजर आएंगे। हर दस्ते में पारंपरिक 144 सैनिकों के बजाय 96 सैनिकों को जगह दी गई है, ताकि कोरोनावायरस के प्रोटोकॉल्स का भी पालन किया जा सके। 

भारतीय सेना की ओर से मार्च में उतरने वाला पहला दस्ता राजपूत रेजिमेंट के सैनिकों का होगा, जो कि 1950 की यूनिफॉर्म पहने और साथ में .303 बोर की राइफल लिए नजर आएंगे। इसके बाद दूसरा मार्चिंग दस्ता असम रेजिमेंट के सैनिकों का होगा और यह दस्ता 1960 के दशक की यूनिफॉर्म के साथ .303 बोर की राइफल लिए दिखेगा। 

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण की झांकी में दर्शायी जाएगी लोक अदालत

उधर राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण की झांकी 26 जनवरी को यहां राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार शामिल होगी। झांकी में लोक अदालत को दर्शाया जाएगा। अधिकारियों ने कहा कि कानून मंत्रालय की झांकी का विषय ‘एक मुट्ठी आसमान (समावेशी कानूनी प्रणाली): लोक अदालत’ है। उन्होंने कहा कि झांकी के सामने के हिस्से में ‘न्याय सबके लिए’ के साथ हाथ का एक भाव दिखाया गया है, जो निडरता, गारंटी और सुरक्षा का प्रतीक है।

झांकी के पिछले हिस्से में एक हाथ को एक-एक करके अपनी पांच अंगुलियों को खोलते हुए देखा जा सकता है, जिसमें लोक अदालतों के पांच मार्गदर्शक सिद्धांतों – सभी के लिए सुलभ, निश्चित, किफायती, न्यायसंगत और समय पर न्याय- को दर्शाया गया है।

Related posts:

BMO Zoya Khan News: BMO Zoya Khan dancing on o aithey aa with husband imran khan, song is from Bolly...
Lucknow news bulletin:-Student at Lucknow University Will be able to fill the form till December 13 ...
After Piyush Jain DGGI raids Malik Mian house in Kannauj IT Raid News Piyush Jain News
Upcoming Movies 2022: सिनेमाघरों में धमाल मचाने आ रही हैं ये 10 फिल्में, यहां देखिए पूरी सूची
Anil kapoor sridevi starrer mr india little girl tina aka huzaan khodajiji now a glamourous lady pr
Upcoming budget size may increase by 14 percent government focus on infrastructure
Ashes England playing XI for Boxing Day Test against australia Jonny Bairstow Zak Crawley to feature
Chhatarpur: 27 New Infected Found On Thursday, Number Of Active Corona Patients Increased To 194 - छ...
How To Add Volume In Your Hair In Winter In Hindi pra
1 फरवरी को बदल जायेंगे बैंकिंग से जुड़े कई नियम, जान लेंगे इनके बारे में तो रहेंगे फायदे में
Man brutally shuts down woman who wants 6 foot and above pratp
50 Thousand Capf Personnel Mobilised In Initial Phase For Assembly Polls In Five States Big Chunk To...
Bjp declare candidate against raghuraj pratap singh aka raja bhaiya from kunda assembly seat know wh...
Without puc certificate you may not get fuel at pump delhi government taking norms prdm
Congress Leader P Chidambaram Slams Home Ministry For Non Renewal Of Fcra Registration Of Missionari...
Debina bonnerjee and gurmeet chaudhary spent 60 thousand for covid test at london airport pr

Leave a Comment