russia threatens military deployment to cuba and venezuela as diplomacy stalls

मॉस्को. रूस (Russia) के एक वरिष्ठ राजनयिक ने गुरुवार को चेतावनी दी कि अगर अमेरिका (US Russia Conflict) के साथ तनाव बढ़ता है तो क्यूबा और वेनेजुएला में रूस की सैन्य तैनाती की संभावनाओं को खारिज नहीं किया जा सकता. जिनेवा में सोमवार की वार्ता में रूसी प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई करने वाले उप विदेश मंत्री सर्जेई रियाबकोव (Sergei Ryabkov) की टिप्पणी टेलीविजन पर प्रसारित हुई, जिसमें उन्होंने कहा कि क्यूबा और वेनेजुएला में रूस द्वारा सैन्य ढांचा खड़ा करने की संभावना की वह ना तो पुष्टि कर सकते हैं और ना ही इसे खारिज कर सकते हैं.

जिनेवा में हुई वार्ता और बुधवार को विएना में हुई नाटो-रूस की बैठक में यूक्रेन के नजदीक रूस की सैन्य तैनाती के बीच उसकी सुरक्षा मांगों को लेकर बनी खाई को पाटने में सफलता नहीं मिली (Russia vs US Ukraine). रूस के आरटीवीआई टीवी के साथ साक्षात्कार में रियाबकोव ने कहा, ‘यह सब हमारे अमेरिकी समकक्षों की गतिविधियों पर निर्भर करता है.’ उन्होंने कहा कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने चेतावनी दी है कि अगर अमेरिका रूस को उकसाने वाले कार्रवाई करता है और उस पर सैन्य दबाव बनाता है तो रूस भी सैन्य एवं तकनीकी कदम उठा सकता है.

आर्मी चीफ ने कहा- जंग हुई तो जीतेगा भारत, भड़के चीन ने कही ये बात

रियाबकोव ने कहा कि अमेरिका और नाटो ने यूक्रेन और अन्य पूर्व-सोवियत राष्ट्रों तक गठबंधन बल के विस्तार को रोकने की गारंटी देने के लिए रूस की मांगों को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा कि प्रयासों में अंतराल से वार्ता जारी रहने की संभावना को लेकर संशय पैदा हो गया है. अमेरिका और रूस के बीच इस समय यूक्रेन सहित तमाम मुद्दों पर विवाद हो रहा है. लेकिन सबसे बड़ा मुद्दा अभी यूक्रेन का ही है.

करोड़ों का चंदा और नजदीकी संबंध! क्या महिला जासूस के जरिए ब्रिटिश सांसदों को फंसा रहा चीन?

यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की आशंका को देखते हुए, इसे रोकने के लिए अमेरिका के नेतृत्व वाले सैन्य गठबंधन नाटो और रूस के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच बैठक हो रही हैं. रूस ने यूक्रेन पर हमले की योजना से इंकार किया है, लेकिन यूक्रेन और जॉर्जिया में इसकी सैन्य कार्रवाई के इतिहास को देखते हुए नाटो चिंता में है. उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के महासचिव जेंस स्टोल्टेनबर्ग ने कहा था कि यूक्रेन की सीमा के पास मॉस्को के बड़े स्तर पर सैनिक तैनात हैं, जिससे तनाव के बावजूद सैन्य संगठन और रूस अधिक बैठकें करने के लिए सहमत हुए हैं. (एजेंसी इनपुट)

Tags: India russia, Ukraine

Related posts:

Tamil Nadu Govt Defends Decision To Make Tamil Language Mandatory For Govt Jobs - तमिलनाडु: सरकारी न...
Up Elections 2022: Congress Leader Alleges Singh Was Trying To Topple The Jharkhand Government - Up ...
20 Anti India Youtube Channels Banned By Indian Gov Under New It Rules Two Pakistani Websites Also B...
Entertainment Live News Update 12 january Hemant Birje narrowly survived in road accident EntPKS
Watch Video Kanpur Police Lathicharge Video Viral Inspector Beaten Young Man Who Take Child In His L...
Woman Lives for Free in Beijing by Disguising Herself as a Socialite pratp
Sapna Choudhary and veer sahu full love story read details ss
Allahabad High Court: Dg Cbid Appeared Before The Court, Told The Court – Action Will Be Taken Again...
Galla Mandis Remained Closed In Protest Against Mandi Charge In Agra - आगरा: मंडी शुल्क के विरोध में...
बीजेपी: कंगना रनौत का स्वतंत्रता संग्राम चौंकाने वाला: पूरी तरह से गलत, बीजेपी अध्यक्ष का कहना है | ...
Harak Singh Rawat News: Harak Not Get Any Party Membership Yet, Says Today He Decides From Where Wil...
Up Elections 2022 Up Minister Dara Singh Chauhan Resigns From Yogi Cabinet - Dara Singh Chauhan Resi...
Indian Railways decide to Cancelled and Short terminate of these 19 trains due to kisan andolan
Inbook x1 and infinix inbook x1 pro launched in india at just rupees 35999 rupees know sale date get...
Oneplus Nord Ce Explodes In User Pocket See Image - सावधान: Oneplus के फोन में लगातार हो रहे धमाके, ...
Time gets wasted in meetings and talking to colleagues four tips to save time in office nav

Leave a Comment