Up Election 2022: Ground Report From Muzaffarnagar, Vote Will Cast Here On Thursday – उत्तर प्रदेश चुनाव: ‘भरोसा न होता तो हम मुल्लाजी के रिक्शे में बच्चों को न भेजते स्कूल’, गंगा-जमुनी तहजीब से दूर नहीं मुजफ्फरनगर

सार

मुजफ्फरनगर में चुनावी कवरेज के दौरान अमर उजाला के विशेष संवाददाता को सब्जी मंडी में मिल गए सुशील कुमार सिल्लो। यहां का जाना-माना चेहरा हैं। सवाल था कि मुजफ्फरनगर में 2013 के दौरान हुए दंगों के बाद लोगों का आपस में भरोसा कितना मजबूत हुआ है, क्या आज लोग उस स्थिति में पहुंच गए हैं कि कोई चिंगारी डाल दे, तो लोग उसे आगे नहीं बढ़ने देंगे? आइए जानते हैं क्या कहा सिल्लो ने…

ख़बर सुनें

मुजफ्फरनगर में जाना-माना चेहरा हैं सुशील कुमार सिल्लो। चुनावी कवरेज के दौरान अमर उजाला की टीम को सब्जी मंडी में मिल गए। सवाल था कि मुजफ्फरनगर में 2013 के दौरान हुए दंगों के बाद लोगों का आपस में भरोसा कितना मजबूत हुआ है, क्या आज लोग उस स्थिति में पहुंच गए हैं कि कोई चिंगारी डाल दे, तो लोग उसे आगे नहीं बढ़ने देंगे? अब सिल्लो की बारी थी। शुरू हुए तो बोलते ही चले गए। भरोसा न होता तो हम ‘मुल्लाजी’ के रिक्शे में 20-20 बच्चे स्कूल न भेजते। जब देश आजाद हुआ तो चार-पांच लाख कत्ल हो गए थे। उसके बाद हिंदू-मुस्लिम भाईचारे में कमी नहीं हुई। मैं सब्जी लेने आया, मुसलमान की दुकान पर आया हूं। पुताई वाला कौन आ रहा है, वो भी ‘नौशाद’ आ रहा है। कहीं ‘शमशाद’ आ रहा है। भाईचारे में कमी नहीं है। उन्होंने कहा, आज के ‘मुजफ्फरनगर’ में ‘गंगा-जमुनी तहजीब’ मौजूद है।

करते दो ‘जन’ हैं, फंसते सौ ‘जन’ हैं

मुजफ्फरनगर में गुरुवार को वोट पड़ेंगे। चलिये ‘सिल्लो’ की बात को आगे बढ़ाते हैं। ये बात सही है कि आज चुनाव में फायदा उठाने के मकसद से लोगों के बीच भरोसे की डोर को हिलाने का प्रयास हो रहा है। अगर दस लोग खड़े हैं और उनमें से दो लोग पत्थर फेंक देते हैं तो वहीं से दंगे की शुरुआत हो जाती है। शरारत करने वाले अपने बीच से ही तो हैं। दो लफंगे ईंट फेंक देंगे, सारा माहौल बिगाड़ देते हैं। दूसरे लोगों का दिमाग खत्म कर देते हैं। करते दो ‘जन’ हैं, फंसते सौ ‘जन’ हैं। कोई आदमी लड़ना नहीं चाहता।

लड़ाई तो दो के बीच है, कौन किसे वोट देगा, ये भी पता है

शहर का ‘कंपनी बाग’, यहां पर अल सुबह सैर करने वाले लोगों से ‘मुजफ्फरनगर’ और ‘चुनाव’ को लेकर बातचीत हुई। डॉक्टर साहब बोले, देखो जी कल वोटिंग होनी है। फाइट दो के बीच है। राष्ट्रीय लोकदल और भाजपा के बीच में फाइट है। हो सकता है बाकी का नंबर न आए। गठबंधन पर मुस्लिम वोट पड़ेगा, बाकी वोट भाजपा को मिलेंगे। वैसे हिंदू-मुस्लिम के बीच प्यार में कमी नहीं है। राजनीति में च्वाइस होती है, बस वही है। अपनी-अपनी पसंद है कोई ‘भाजपा’ पर जा रहा है तो कोई ‘गठबंधन’ पर जा रहा है। व्यायाम कर रहे युवाओं ने कहा, भर्ती जल्दी आनी चाहिए। सरकार, इस पर ध्यान दे कि युवाओं का नुकसान न होने पाए।

एक अन्य साहब बोले, मौजूदा सरकार में गुंडागर्दी बंद हुई है। लोग विकास पर वोट देंगे। हिंदू-मुस्लिम बड़ा मुद्दा नहीं है, लेकिन महंगाई को लोग समझ रहे हैं। शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा के लिए मेरठ जाना पड़ता है। इस सरकार में झगड़े का तो कोई मतलब नहीं है। सबका अच्छा व्यहार है। साल 2017 के बाद प्रदेश में अपराध पर अंकुश लगा है।

अब तो ‘नेताओं’ ने ‘होशियार’ कर दिया है

मुजफ्फरनगर के प्रसिद्ध ‘शिव चौक’ पर वरिष्ठ नागरिक एवं मार्केट से जुड़े लाला जी का कहना है, घी डालो, चाहे कुछ करो। सही बात तो ये है कि इन नेताओं ने लोगों को होशियार कर दिया है। ‘हिंदू मुस्लिम’ अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है। अभी है, नेता लोग कुछ न कुछ अपना काम कर देते हैं। कुछ लोग उनके चक्कर में आ जाते हैं। एक तबका उनकी बहकावे में आ जाता है। सब्जी बेच रहे शब्बीर बोले, मेरा अपना अनुमान है कि मौजूदा सरकार दोबारा आएगी। जो पढ़ा-लिखा मुस्लिम है, वह भाजपा को वोट देगा। मौजूदा सरकार ने गुंडागर्दी खत्म कर दी। लड़की आजाद है, मां-बाप उससे बेफिक्र हो गए। रेलवे स्टेशन के सामने छोटा सा ढाबा चलाने वाले दुकानदार कहते हैं, महंगाई दुनियाभर की है। हजार रुपये का सिलंडर है।

विस्तार

मुजफ्फरनगर में जाना-माना चेहरा हैं सुशील कुमार सिल्लो। चुनावी कवरेज के दौरान अमर उजाला की टीम को सब्जी मंडी में मिल गए। सवाल था कि मुजफ्फरनगर में 2013 के दौरान हुए दंगों के बाद लोगों का आपस में भरोसा कितना मजबूत हुआ है, क्या आज लोग उस स्थिति में पहुंच गए हैं कि कोई चिंगारी डाल दे, तो लोग उसे आगे नहीं बढ़ने देंगे? अब सिल्लो की बारी थी। शुरू हुए तो बोलते ही चले गए। भरोसा न होता तो हम ‘मुल्लाजी’ के रिक्शे में 20-20 बच्चे स्कूल न भेजते। जब देश आजाद हुआ तो चार-पांच लाख कत्ल हो गए थे। उसके बाद हिंदू-मुस्लिम भाईचारे में कमी नहीं हुई। मैं सब्जी लेने आया, मुसलमान की दुकान पर आया हूं। पुताई वाला कौन आ रहा है, वो भी ‘नौशाद’ आ रहा है। कहीं ‘शमशाद’ आ रहा है। भाईचारे में कमी नहीं है। उन्होंने कहा, आज के ‘मुजफ्फरनगर’ में ‘गंगा-जमुनी तहजीब’ मौजूद है।

करते दो ‘जन’ हैं, फंसते सौ ‘जन’ हैं

मुजफ्फरनगर में गुरुवार को वोट पड़ेंगे। चलिये ‘सिल्लो’ की बात को आगे बढ़ाते हैं। ये बात सही है कि आज चुनाव में फायदा उठाने के मकसद से लोगों के बीच भरोसे की डोर को हिलाने का प्रयास हो रहा है। अगर दस लोग खड़े हैं और उनमें से दो लोग पत्थर फेंक देते हैं तो वहीं से दंगे की शुरुआत हो जाती है। शरारत करने वाले अपने बीच से ही तो हैं। दो लफंगे ईंट फेंक देंगे, सारा माहौल बिगाड़ देते हैं। दूसरे लोगों का दिमाग खत्म कर देते हैं। करते दो ‘जन’ हैं, फंसते सौ ‘जन’ हैं। कोई आदमी लड़ना नहीं चाहता।

लड़ाई तो दो के बीच है, कौन किसे वोट देगा, ये भी पता है

शहर का ‘कंपनी बाग’, यहां पर अल सुबह सैर करने वाले लोगों से ‘मुजफ्फरनगर’ और ‘चुनाव’ को लेकर बातचीत हुई। डॉक्टर साहब बोले, देखो जी कल वोटिंग होनी है। फाइट दो के बीच है। राष्ट्रीय लोकदल और भाजपा के बीच में फाइट है। हो सकता है बाकी का नंबर न आए। गठबंधन पर मुस्लिम वोट पड़ेगा, बाकी वोट भाजपा को मिलेंगे। वैसे हिंदू-मुस्लिम के बीच प्यार में कमी नहीं है। राजनीति में च्वाइस होती है, बस वही है। अपनी-अपनी पसंद है कोई ‘भाजपा’ पर जा रहा है तो कोई ‘गठबंधन’ पर जा रहा है। व्यायाम कर रहे युवाओं ने कहा, भर्ती जल्दी आनी चाहिए। सरकार, इस पर ध्यान दे कि युवाओं का नुकसान न होने पाए।

एक अन्य साहब बोले, मौजूदा सरकार में गुंडागर्दी बंद हुई है। लोग विकास पर वोट देंगे। हिंदू-मुस्लिम बड़ा मुद्दा नहीं है, लेकिन महंगाई को लोग समझ रहे हैं। शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा के लिए मेरठ जाना पड़ता है। इस सरकार में झगड़े का तो कोई मतलब नहीं है। सबका अच्छा व्यहार है। साल 2017 के बाद प्रदेश में अपराध पर अंकुश लगा है।

Related posts:

Vicky Katrina Wedding: विक्की कटरीना की शादी के मौके पर दिल्ली पुलिस का ट्वीट हुआ वायरल, कही ये बड़ी...
india inc expects hiring to witness 31 percent growth in 2022 47 percent new jobs will be created in...
After alert of Meteorological Department administration geared up to deal with snowfall nodssp
संघ पर दिग्विजय और भाजपा में बढ़ी तकरार | Digvijay and BJP increased dispute over Sangh
CG Vyapam Recruitment 2022 food civil supply inspector 84 posts sarkari naukri result
Infinix inbook x1 inbook x1 pro laptop may launch on 8 december 2021 in india price already leaked a...
Mahabodhi Convention Center with auditorium is ready seating capacity of more than 2000 people brvj
Jammu Kashmir: Army Put Up Arms Exhibition In Poonch - जम्मू-कश्मीर: पहली बार सेना के छोटे-बड़े हथिया...
Due to the absence of roadways buses at the bus stand, the passengers are facing a lot of trouble. –...
Delhi Police Anti Narcotics team Seized worth 60 lakhs Heroin three peddlers arrested
Mp Tet Exam Registration Window To Reopen For Madhya Pradesh Teacher Eligibility Test 2020, Last Day...
Court Directs Accused To Provide Free Service In Animal Care Center For Violating Bail Condition - द...
Delhi: Movement Became Easier Due To The Opening Of Tikri Border, Local People Were Facing Problems ...
UP Assembly Elections sharad pawar party ncp minister dara singh chauhan read 10 big updates related...
India To Release 5 Mn Barrels Of Crude Oil From Strategic Reserves To Cool Prices - घट सकते हैं तेल ...
Fiercely Assaulted After Car Colliding With Dumper Six Injured Four People In Custody - महराजगंज: डं...

Leave a Comment