Up Elections 2022 Azamgarh Former Minister Wife Shama Wasim Pain Over Not Getting Ticket From Samajawdi Party Akhilesh Yadav – यूपी चुनाव 2022: सपा से टिकट न मिलने पर पूर्व मंत्री की पत्नी का छलका दर्द, अखिलेश यादव पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप

सार

सपा ने आजमगढ़ की सात विधानसभा सीटों पर भी उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। गोपालपुर सीट से टिकट की दावेदारी कर रहीं पूर्व मंत्री वसीम अहमद की पत्नी शमा वसीम को टिकट नहीं मिला। उन्होंने अखिलेश यादव पर छल करने का आरोप लगाया है। 

पूर्व मंत्री वसीम अहमद की पत्नी शमा वसीम
– फोटो : सोशल मीडिया।

ख़बर सुनें

समाजवादी पार्टी ने गुरुवार को पूर्वांचल के आठ जिलों की 22 सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। इस सूची में आजमगढ़ की 10 सीटों में से सात सीटें शामिल हैं। सपा के टिकट पर चुनाव लड़ने का ख्वाब सजाए मैदान में उतरी पूर्व मंत्री वसीम अहमद की पत्नी शमा वसीम को टिकट न मिलने पर दर्द छलक उठा।

उन्होंने सपा मुखिया अखिलेश यादव पर छलने का आरोप लगाया है।  गोपालपुर सीट से टिकट की दावेदारी कर रही पूर्व मंत्री शमा वसीम को समाजवादी पार्टी ने टिकट नहीं दिया। इस सीट से वर्तमान विधायक नफीस अहमद को पार्टी का टिकट मिला है।

वसीम अहमद के देहांत के बाद शमा वसीम इस सीट से टिकट मांग रही थीं। अखिलेश यादव से कई बार उनकी मुलाकात हुई। शमा वसीम का कहना है कि अखिलेश यादव ने उन्हें आश्वस्त किया था कि वह गोपालपुर सीट से उनको टिकट देंगे। उन्होंने अखिलेश यादव पर छल करने का आरोप लगाया।

– आजमगढ़
दुर्गा प्रसाद यादव: नगर से सटे आहो पट्टी गांव निवासी आजमगढ़ सदर विधायक दुर्गा प्रसाद यादव अब तक आठ बार जीत हासिल कर चुके हैं। वर्तमान में सपा के विधायक हैं। सपा सरकार में मंत्री रहे दुर्गा प्रसाद यादव कोई भी लहर हो चाहे बसपा की लहर हो या भाजपा की दुर्गा प्रसाद यादव अपनी सीट को बचाने में हर बार कामयाब रहे हैं। जिसे देखते हुए पार्टी ने उन पर विश्वास जताते हुए एक बार फिर से उम्मीदवार बनाया है। 

– गोपालपुर
नफीस अहमद: गोपालपुर विधानसभा सीट से वर्तमान विधायक नफीस अहमद को पार्टी ने एक बार फिर अपना प्रत्याशी घोषित किया है। सगड़ी तहसील के विंदवल गांव निवासी नफीस अहमद का नाम उस समय चर्चा में आया जब 2012 के चुनाव में पार्टी ने दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री वसीम अहमद का टिकट काटकर नफीस अहमद को प्रत्याशी बनाया और उन्होंने जीत हासिल की। 
– अतरौलिया
डा. संग्राम यादव: अतरौलिया विधानसभा सीट से डा. संग्राम यादव सपा के वर्तमान विधायक हैं। दो बार चुनाव जीत चुके डा. संग्राम यादव पर पार्टी ने फिर भरोसा जताया है। वह सपा के पूर्व मंत्री और वर्तमान में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव बलराम यादव के पुत्र हैं। 

– निजामाबाद
आलमबदी आजमी: सपा नेता आलमबदी आजमी वर्तमान में सपा के निजामाबाद विधानसभा सीट से विधायक हैं। उनकी साफ सुथरी छवि को देखते हुए पार्टी ने एक बार फिर उन पर भरोसा जताया है। नगर के मातबरगंज मुहल्ला निवासी विधायक आलमबदी निजामाबाद से चार बार चुनाव जीतने के बाद एक बार फिर पार्टी का झंडा बुलंद करने की तैयारी में हैं। 
 
– लालगंज
बेचई सरोज: 2012 के सपा के टिकट पर लालगंज विधानसभा सीट से विधायक बने बेचई सरोज 2017 के विधानसभा चुनाव में आजाद अरिमर्दन से हार गए थे। लेकिन पार्टी ने एक बार फिर से उन पर भरोसा जताया है। सपा सुप्रीमो ने एक बार फिर उन्हें लालगंज विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया है। 

– दीदारगंज
कमलाकांत राजभर: सपा द्वारा सात सीटों पर घोषित किए गए प्रत्याशियों में एक नया चेहरा कमलाकांत राजभर का है। जो पूर्व विधानसभा अध्यक्ष स्व. सुखदेव राजभर के बेटे हैं। अंतिम समय में सुखदेव राजभर ने उन्हें सपा में शामिल कराया था। पार्टी ने पिछले चुनाव में हार का सामना करने वाले आदिल शेख को टिकट नहीं दिया है। उनके स्थान पर कमलाकांत पहली बार चुनाव मैदान में होंगे। 
– फूलपुर-पवई
रमाकांत यादव: पार्टी ने एक बार फिर फूलपुर-पवई विधानसभा सीट से अपने पुराने दिग्गज रमाकांत यादव को मैदान में उतारा है। रमाकांत यादव इस सीट से चार बार पहले भी विधायक रह चुके हैं। वर्तमान में इस सीट से उनके पुत्र अरूणकांत यादव भाजपा के विधायक हैं।
पढ़ेंः सपा ने जारी की पूर्वांचल के 22 उम्मीदवारों की सूची, कई पुराने चेहरे, भाजपा से आए दारा सिंह चौहान को भी टिकट

विस्तार

समाजवादी पार्टी ने गुरुवार को पूर्वांचल के आठ जिलों की 22 सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। इस सूची में आजमगढ़ की 10 सीटों में से सात सीटें शामिल हैं। सपा के टिकट पर चुनाव लड़ने का ख्वाब सजाए मैदान में उतरी पूर्व मंत्री वसीम अहमद की पत्नी शमा वसीम को टिकट न मिलने पर दर्द छलक उठा।

उन्होंने सपा मुखिया अखिलेश यादव पर छलने का आरोप लगाया है।  गोपालपुर सीट से टिकट की दावेदारी कर रही पूर्व मंत्री शमा वसीम को समाजवादी पार्टी ने टिकट नहीं दिया। इस सीट से वर्तमान विधायक नफीस अहमद को पार्टी का टिकट मिला है।

वसीम अहमद के देहांत के बाद शमा वसीम इस सीट से टिकट मांग रही थीं। अखिलेश यादव से कई बार उनकी मुलाकात हुई। शमा वसीम का कहना है कि अखिलेश यादव ने उन्हें आश्वस्त किया था कि वह गोपालपुर सीट से उनको टिकट देंगे। उन्होंने अखिलेश यादव पर छल करने का आरोप लगाया।

Related posts:

Disclosure Of Side Effects: The Development Of The Child Is Affected By The Use Of More Smartphones ...
Uttarakhand News: Cm Pushkar Singh Dhami Meet With Akshay Kumar At Dehradun - उत्तराखंड: बॉलीवुड अभि...
Punjab assembly election eci to discuss request of punjab cm charanjit s channi for postponement of ...
Delhi News Today 23 November: दिल्ली समाचार | सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें
Terrorist Pakistani Involved In Killing Of Policemen, Cctv Footage Revealed - बांदीपोरा आतंकी हमला: ...
Mother Punished Drunken Son As He Torchured His Parents After Consuming Alcohal - सख्त फैसला: शराबी ...
Jammu-kashmir: Encounter At Pantha Chowk After Midnight, Four Soldiers Injured, Three Terrorists Kil...
Asaduddin owaisi news asaduddin owaisi attack case cctv video meerut chhijarsi toll plaza uttar prad...
भाजपा सांसद ने नड्डा से योगी को मथुरा से उतारने की अपील की | BJP MP appeals to Nadda to bring Yogi o...
Delta Is More Dangerous Than Omicron, Both May Cause Third Wave Of Covid-19 In India - कोरोना संकट: ...
Himachal News: Divyang Shikha Sharma In Rehabilitation Center In Chandigarh - शर्मसार हुई इंसानियत: ...
Budget 2022 date and timing will it be presented at 4pm on feb 1 know details mlks
Debt ridden dausa farmer could not repay 7 lakh kcc loan due bank auctioned 7 bigha land read painfu...
Green peas storage tips hari matar store karne ka tarika in hindi neer
Maharashtra: Nawab Malik Claims That Some People Are Doing Recce Of His House And School Know What I...
TVS Apache RTR 165 RP Limited Edition Sold Out In India price color feature

Leave a Comment